बैंक वाली मेडम की चूत का रसपान किया

दोस्तो, मेरा नाम आमिर है और मैं 25 साल का हूँ और मैं दिल्ली से हूँ. मेरी हाईट 5 फुट 4 इंच है और मेरे लंड का साइज़ 6 इंच है. इसकी मोटाई भी 3.5 इंच है, ये मैंने नापा हुआ है. मैं पिछले 3 साल से कहानी पढ़ता आ रहा हूँ. सुबह शाम जब तक एक बात साईट खोल का लंड न हिला लूं, मुझे चैन नहीं पड़ता है. बैंक वाली मेडम की चूत का रसपान

इसकी रसीली सेक्स कहानी पढ़कर मैंने भी सोचा कि क्यों ना मैं भी अपनी सच्ची सेक्स स्टोरी आप लोगों के साथ साझा करूं.

सब लड़के लड़कियां अपना अपना आइटम थाम कर बैठ जाएं.

मुझको शादीशुदा आंटियां और भाभियां ज्यादा पसंद आती हैं क्योंकि वो साथ अच्छा देती हैं.
अभी तक मैंने एक के ही साथ सेक्स किया है. पहला सेक्स जिसके साथ किया, ये उसी हॉट लड़की की सेक्स कहानी है.

मेरा काम एक ही बैंक (प्राइवेट सेक्टर) में ज्यादा पड़ता है क्योंकि मेरी फैमिली में सभी का एक ही बैंक में अकाउंट है.
मैं अपने भाई के काम से बैंक जाता रहता था.

एक दिन मैंने अपना खाता उसी बैंक में खुलवाया, तो बैंक की मेम ने मुझसे मेरा फोन नम्बर मांगा.
जब मैंने उनसे पूछा तो उन्होंने कहा कि मैं आपको फोन पर ही अपडेट बता दूँगी कि आपकी पास बुक और एटीएम कार्ड आ गया है, ले जाओ.

मैंने भी कहा- ओके मेम, आप भी अपना नम्बर दे दो, हो सकता है आप फ़ोन करना भूल जाओ, तो मैं ही कर लूंगा.
मेम ने अपना नम्बर मुझे दे दिया.

मैंने 15 दिन बाद मेम को कॉल किया, तो उन्होंने कहा- हां आमिर आपका अकाउंट चालू हो गया है, आप पासबुक ले जाओ.
उन मैडम का नाम अर्सी था, ये नाम बदला हुआ है.

फिर एक दिन मैंने मैडम से अपनी जॉब बैंक में लगवाने के लिए बात की, तो उन्होंने कहा- ओके मैं किसी से बात करके देखती हूँ.
मेरी जॉब की बात तो कहीं नहीं बनी लेकिन मैडम से बात होनी शुरू हो गई.

उन मैडम का फिगर साइज़ 30-34-38 का था. वो दिखने में बहुत मस्त माल थीं.
हालांकि मैंने अब तक उनको कभी ग़लत नज़र से नहीं देखा था.

एक दिन मेम का फोन आया और उन्होंने मुझसे कहा- मुझको कुछ पैसों की ज़रूरत है, क्या कुछ हो सकता है?
मैंने कहा- मेरे पास तो नहीं है.

तो उन्होंने कहा- आपके पापा के अकाउंट में हैं, आप उनसे लेकर मुझे दे दो. मैं जल्दी ही आपको वापस दे दूँगी.
मैंने कहा- मैडम पापा ने मना कर दिया तो?

पर मेम ने बड़ी रिक्वेस्ट करते हुए कहा- प्लीज़ मेरी मदद कर दो.
मैंने पैसे दे दिए.

फिर ऐसे ही हमारी बात 3 महीने तक चलती रही.
अब ईद आ गई.

मैडम से मैं बड़ा खुल गया था. मैडम भी मुझसे एक दोस्त की तरह बात करने लगी थीं.
उन्हें कोई भी काम होता तो वो मुझे फोन कर देती थीं.

ईद पर मेम ने कहा- मुझे क्या गिफ्ट दोगे?
मैंने कहा- आपको क्या चाहिए, बताओ.
वो बोलीं- कुछ भी चलेगा.

मैं उनके लिए मिठाई ले गया.

मैंने मैडम से कहा- अब मेरा गिफ्ट?
तो वो बोलीं- वो मैं बाद में दूँगी.

कुछ दिन बाद मैंने मैडम से कहा- मेरा गिफ्ट मुझे अभी तक नहीं मिला और ईद को निकले भी एक महीना हो गया. आप मुझे गिफ्ट कब दोगी? desi sex stories
वो बोलीं- मिल जाएगा. मुझको अभी एक काम है, आप मेरे साथ चलोगे?

मैंने कहा- हां मैं चलूँगा. किधर चलना है?
वो बोलीं- एक काम से चलना है, पहले मुझे आपसे कुछ बात करनी है, फिर चलेंगे. बात करने के लिए आप कल इस होटल में आ जाना.

मेम ने होटल का नाम बताया और समय बताया.
मैंने कहा- ओके.

दूसरे दिन हम दोनों उस होटल के बाहर मिले.
उस दिन मेम ने क्या मेकअप कर रखा था, वो बड़ी कंटीली माल लग रही थीं. एकदम सेक्सी आइटम.

मैंने कहा- क्या बात है मेम … आप कहीं जा रही हो क्या?
वो मुस्कुरा कर बोलीं- हां आपके साथ.

मैंने कहा- किधर?
वो बोली- अभी बताती हूँ, पहले अन्दर चलो.

हम दोनों अन्दर चल दिए.

रूम में जाते ही मेम में कहा- आमिर तुम मेरी मदद करोगे?
मैंने कहा- आप बताओ न!

मैडम ने कहा- मैं बहुत अकेली महसूस करती हूँ. मेरे शौहर ड्रिंक ज्यादा करते हैं और उनके पास मेरे लिए टाइम ही नहीं है.
मैंने कहा- बताओ मैडम मैं आपकी किस तरह से मदद कर सकता हूँ.

वो बोलीं- बैठ कर बात करते हैं.
हम दोनों बैठ गए.

अब वो मादक स्वर में बोलीं- सेक्स करोगे मेरे साथ?
ये सुनकर मैं मन ही मन बहुत खुश हुआ.

मैंने कहा- मेम, आपके साथ सेक्स करना तो मेरे लिए सौभाग्य की बात होगी. मगर एक दिक्कत है.
मेम बोलीं- क्या दिक्कत है?
मैंने कहा- मेरा ये फर्स्ट टाइम है.

मेरी बात सुनकर उनकी आंखों में चमक आ गई. वो मुस्कुरा कर बोलीं- कोई बात नहीं, मैं हूँ ना.
मैंने भी हंस कर कहा- ओके.

हम दोनों ने एक दूसरे की तरफ देखा तो मैडम ने अपनी बांहें फैला दीं और मुझे करीब आने का इशारा कर दिया.
मैं मैडम की बांहों में समा गया.

मैडम के जिस्म की मस्त मादक महक ने मुझे एकदम से कामोत्तेजित कर दिया.
मैंने कहा- मेम, बड़ी महक रहो हो आप!

बैंक वाली मेडम की चूत का रसपान

मेम- हां आमिर, मुझे खुल कर महकना है. तुम मुझे आज महका दो … मेरी प्यास बुझा दो.
मैंने कहा- मेम मेरी पूरी कोशिश रहेगी. मगर मेरा पहली बार है तो मैं जल्दी फिसल न जाऊं.

मेम बोलीं- मैं तुम्हें फिसलने नहीं दूंगी. मेरे पास इसका इलाज है.
मैंने कहा- क्या इलाज है?

कुछ देर बाद मेम ने मुझको एक गोली दी और कहा- लो इसे खा लो.
मैंने कहा- ये क्या है?

वो बोलीं- बस खा लो. इससे जल्दी नहीं फिसलोगे.
मैंने खा ली. बैंक वाली मेडम की चूत का रसपान

अब मैंने मेम को हग किया और उन्हें किस करने लगा. मेम मचलने लगीं और सीत्कार भरने लगीं.
मैं उनके होंठों पर अपने होंठ लगा कर उन्हें चूमने लगा.
मेम भी मेरे होंठों का रस पीने लगीं.

‘आआह अह … ईईई …’
मैंने मेम की गर्दन पर किस की और उनके बूब्स दबाने लगा.

वो बोल रही थीं- आह आमिर … और तेज दबाओ … मेरे निप्पलों को मसलो.
मैंने वैसे ही किया और उनकी साड़ी उतारने लगा.

जल्द ही मेम मेरे सामने काले रंग की ब्रा और पैंटी में आ गई थीं.
मैंने उनकी ब्रा का हुक खोला और एक दूध को पीने लगा.

मैडम ने आह भरी और अपने हाथ से मुझे अपने दूध पिलाने लगीं.
मैंने उनके दोनों मम्मों को जीभर के चूसा.

पूरे रूम में मेम की मादक आवाजें गूँजने लगीं- आआह वेरी गुड आमिर … और चूसो.
अब मैंने उनके कान को चाटा, तो वो एकदम से मचल गईं और मुझे कसके पकड़ लिया.

मैं उनके मम्मों को दांत से काटने लगा.
वो बोलीं- आह आई लव यू जान. खा जाओ.

कुछ देर बाद मैंने उनकी पैंटी उतार कर उन्हें लेटा दिया. मैंने देखा मैडम की चूत एकदम साफ थी. चूत पर प्रीकम की बूंदें चांदी सी चमक रही थीं. antarvasna
मैंने अपने रूमाल से उनकी चूत साफ की और जैसे पॉर्न फिल्म्स में करते हैं, वैसे ही उनकी चूत चाटने लगा.

वो अपनी चूत पर मेरी जीभ का अहसास करते ही एकदम से सिहर उठीं और बोलीं- आह मेरी जान … ऐसे ही करो प्लीज़ … मैंने अभी तक ये सुख पाया ही नहीं है.
मैं मैडम की चूत को पूरी तन्मयता से चाट रहा था.

कुछ देर बाद वो बोलीं- अब डालो ना!
मैंने कहा- पहले मेरे कपड़े तो उतारो मेरी जान.

वो मुझको अपने ऊपर खींच कर किस करने लगीं और मेरे कपड़े उतारने लगीं.
मेरे पूरे शरीर को चाटने लगीं.

फिर मेरी अंडरवियर को उतारा और मेरा खड़ा लंड देख कर मुस्कुरा कर बोलीं- आह ये तो बड़ा मोटा है.
मैंने कहा- मुँह में लेकर प्यार करो मैडम.

मैडम लंड मुँह में लेने लगीं और मैं तो मानो पागल हो गया.

कुछ देर बाद हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गए.

फिर खेल शुरू हुआ, मैं लंड चूत की फांकों में रगड़ने लगा.

वो कहने लगीं- जान, अब डाल भी दो न क्यों सता रहे हो.
मैंने लंड चूत पर सैट किया और धक्का मार दिया.

मेरा लंड फिसल गया, तो वो बोलीं- कोई बात नहीं, दोबारा करो जान.
मैंने फिर से पेला, तो फिर से फिसल गया.

अब वो मुस्कुराईं और बोलीं- रूको.
उन्होंने लंड पकड़ कर अपनी चूत पर रखा और बोलीं- हां, अब धक्का दो.

मैंने धक्का दिया तो लंड अन्दर घुस गया.
वो कराहती हुई बोलीं- आह जान आराम से … एकदम से पूरा क्यों डाल दिया … आआह … दर्द हो रहा है.

मैंने घबरा कर कहा- निकाल लूं क्या?
वो बोलीं- नहीं, मेरे ऊपर लेट जाओ.

मैं लेट गया.
मैडम बोलीं- आह … अब मेरे बूब्स दबाओ.
मैंने मैडम के दूध दबाए.

कुछ देर बाद वो शांत हो गईं और बोलीं- अब दो धक्का!
मैंने धक्के लगाने शुरू कर दिए.

वो- एयाया हईई ईईई जान आराम से … मेरी चूत ही फाड़ दोगे क्या?
मैंने कहा- मेरी जान, बहुत अच्छा लग रहा है. मेरा पानी क्यों नहीं निकल रहा है.

वो बोलीं- तुमने गोली खाई है जान!
मैंने कहा- अच्छा इसलिए.

मैं मैडम को चोदता गया और थक गया.
अब वो मेरे ऊपर आ गईं और कूदने लगीं.

पूरे रूम में धप धप की आवाज़ आ रही थी और चुदाई की मस्त आवाज़ आ रही थी- हह उई ईईई आआ आआअ मांआ आअ और जोर से चोदो जान!

कुछ देर बाद मैडम का पानी निकल गया. वो कम से कम 15 मिनट तक मेरे लंड से चुदीं.

उसके बाद मैंने कहा- जान मेरा कब निकलेगा, मैं थक गया हूँ.
वो बोलीं- रूको.

अब वो हट गईं और मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसने लगीं.
कोई 5 मिनट बाद मेरा पानी निकल गया.

कुछ देर बाद उन्होंने कहा- जान एक बाद और.
मैंने कहा- ठीक है … पर जान थोड़ा रुक जाओ.

वो बोलीं- ओके.
हम दोनों रुक गए.

फिर मैंने उन्हें अपनी बांहों में ले लिया और हम दोनों लेट गए, किस करना शुरू कर दिया और कुछ ही मिनट बाद उन्होंने मेरा लंड अपने मुँह में ले लिया.
मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया.

वो बोलीं- जान, अब चुदाई शुरू करो.
मैंने कहा- हां आओ.

अब तक मैं सब समझ चुका था. इस बार मैंने मैडम की गांड के नीचे तकिया लगाया और लंड पेल कर चोदने लगा.

मैंने इस बार हॉट लड़की की चुदाई धकापेल की.
वो बोलीं- वाह जान बहुत जल्दी सीख गए.

अब मैंने उन्हें कुतिया बनाया और पीछे से लंड पेल कर चोदना शुरू कर दिया.
बीस मिनट बाद हम दोनों का पानी निकल गया और हम दोनों अपनी सांसों को नियंत्रित करने लगे.

अब मेरा जब भी मन करता है, मैं मैडम को चोद लेता हूँ और वो भी मेरे लंड से खुश रहने लगी हैं.

रंडी की रूप में चुदाई - Antarvasna Story

भावनाओं की बरसात 🔥🧡 | Jethji Se Chudai Kahani – AntarvasnaStory.co.in

सभी सम्मानित लेखिकाओं हर्षिता जैन को सादर। मेरी पहली कहानी 'द परस्यूट ऑफ हैप्पीनेस' का आनंद लेने के लिए आप ...
Read More
हमारी पहली चुदाई Part - 2 | Our First Time Fuck - XAtarvasna.com

वर्जिन गांडू की सेक्स कहानी |Virgin Gandu Ladke ki Chudai – AntarvasnaStory.co.in

राकेश की गांड मे शाम होते ही खुजली होने लगी तो वो फिर नीरज के कमरे मे पहुंच गया ओर ...
Read More
मेरी पत्नी की चूत की दुकान - Antarvasna Story

My First Sex Ever – दोस्त की हॉट गर्लफ़्रेंड की चुदाई

इस कहानी में मैंने यही बताया है कि मेरा पहला सेक्स कैसे हुआ। वो मेरे दोस्त की गर्लफ्रेंड थी, उसे ...
Read More
Husband wife Open Sex Kahani - रूम की बालकनी में बीवी को नंगी चोदा

सगी बहन की चुदाई | Sagi Behan ki Chudai Kahani – AntarvasnaStory.co.in

यह कहानी मेरे और मेरी बहन के बीच हुए सेक्स की है जिसमें उसकी सहेली ने मेरी मदद की। हेलो ...
Read More
Young Boy Gand Love Kahani - गे ऐप से लौंडे की गांड मारी

अनलिमिटेड चुदाई | Bhabhi Ki Gangbang Chudai Kahani – AntarvasnaStory.co.in

Jusqu'à présent, ces gens m'ont dit un nombre illimité de fois, ont dit non, j'ai baisé partout dans la jungle, ...
Read More
हमारी पहली चुदाई Part - 2 | Our First Time Fuck - XAtarvasna.com

ऑफिस के बॉस से मई तो चुदगायी वोह भी बिना कंडोम के – Antarvasna Story

हेल्लो दोस्तों ,मेरा नाम प्रिया है ,और मई ये साईट में काफी बार आया हु ,और यहाँ का स्टोरीज पड़ना ...
Read More

Leave a Comment