बरसात में बहन की चुदाई

हेलो दोस्तों, कैसे हो आप। अन्तर्वासना स्टोरी पे आपका स्वागत हैं आज मैं आपको बरसात में बहन की चुदाई की कहानी सुनाऊंगा। मैं आप लोगो से ये नहीं कहूंगा की ये मेरी सच्ची कहानी हैं एक्स्ट्रा एक्स्ट्रा। जिन्हे मानना हैं वो मैंने वरना न मानने। मैं तो यहाँ अपनी फीलिंग शेयर करना चाहता हूँ। और हां दोस्तो अच्छा हो या बुरा मुझे रिप्लाई के थ्रो या कमेंट करके बताइयेगा जरूर।

मेरी उम्र २५ साल हैं। मेरी दो बहने हैं पहली की उम्र 16 और दूसरी की 21 साल हैं। अब मैं आपको बताने जा रहा हूँ की मैंने अपनी बहन नमृता को कैसे बरसात मे चोदा। ये अभी कुछ दिन पहले की ही बात हैं। उस दिन मम्मी और पापा दोनों ही अपनी ड्यूटी पे गए थे और मैं घर पर अकेला था। मेरी बड़ी बहन नमृता (21 साल) कॉलेज गयी थी और छोटी बहन सौम्य (16 साल) अपने दोस्त के पास गई थी क्योकि उससे अगले दिन हॉस्टल जाना था। उस दिन मैं अपने कमरे में बैठ कर चैटिंग कर रहा था। उसी समय मैंने बहार देखा तो आसमान में बड़े घंने बादल दिखे। मैंने फ़ोन से नमृता और सौम्य से बात की सौम्य ने कहा की वो शाम तक आएगी लेकिन नमृता ने कहा की वो बस थोड़ी देर में घर आजाएगी, वो रास्तये में थी।

फिर मैंने देखा की जोरो से बरसात होनी शुरू हो गयी। मुझे बरसात में नहाना अच्छा लगता हैं इस लिए तुरंत हाफ पेंट पहन कर छत पर चला गया और बारिश में भीग कर बारिश का मज़्ज़ा लेने लगा। थोड़ी देर में दरवाज़े की घंटी बजी। मैं भीगे हुए ही निचे आया और दरवाज़ा खोला मैंने देखा की दरवाज़े पर नमृता खड़ी हैं और वो पूरी तरह से भीगी हुई थी। जब मैंने दरवाज़ा खोला तो वो अपने दुपट्टे को हाँथ में लेकर उससे पानी निकल रही थी और उसी समय मुझे उसके चुच्चे दिखे पानी में भीगने की वजहें से उसकी पूरी ड्रेस उसके बदन से चिपक गई थी। Antarvasna

मैंने देखा की उसकी ब्लैक ब्रा उसके पिंक सूट से नज़र आ रही थी और उसकी चूची (boobs) ऊपर से आधे वाइट और गोल नज़र आ रहे थे। मुझे तो देखते ही मदहोशी छाने लगी और मेरा लंड खड़ा होने लगा। तभी वो अंदर की तरफ आई मैंने पीछे से उसकी गांड (Ass) को बड़े गौर से देखा वो एक दम गोल गोल और मस्त लग रही थी। मैं उसके पीछे भीतर गया और पूछा की पानी मे भीगने की क्या ज़रूरत थी, तो नमृता ने कहा की मैं पास में ही थी तो बारिश शुरू हो गयी और वैसे भी मुझे पानी में भीगना अच्छा लगता है।

तो मैंने कहा की ठीक हैं में छत पर जा रहा हूँ बरसात में नहाने, ये कह कर मैं ऊपर आ गया और नहाते हुए नमृता के बारे में सोचने लगा। तभी मैंने देखा की नमृता भी ऊपर आ गयी और बारिश में भीगने लगी। इधर बारिश पुरे जोर से बरस रही थी मैं तो यही चाह रहा था की वो ऊपर आ जाये। मैं नमृता से नज़रे बचा कर उसके भीगे बदन को देख रहा था मैंने देखा की उसके गुलाबी होंठ एक दम लाल हो गए हैं और उसकी आधी चूची उसके सलवार से निकलने को बेताब हैं और उसके सुन्दर पैर एक दम मस्त लग रहे थे।

मेरा तो मूड ख़राब होने लगा और मैंने सोचा की अब तक अपनी प्यारी बहन को मेडिसिन देकर चोदा आज इससे रियल मैं मज़्ज़ा लिया जाये जो होगा देखा जायेगा ये सोच कर मेरा लंड खड़ा होने लगा इधर नमृता पूरी मदहोशी में भीग रही थी। थोड़ी ही देर में मेरा लंड मेरी हाफ पेंट में खड़ा हो गया था और ऊपर से साफ दिख रहा था। मैंने देखा की नमृता की नज़र मेरे पेंट पर पढ़ी उसने देखा और फिर थोड़ी सी मुस्कुरा कर भीगने में मस्त हो गयी। उसके पूरे बदन पर बरसात का पानी पढ़ रहा था और उसके होंठ एक दम लाल होते जा रहे थे। इधर मुझसे रहा नहीं जा रहा था मै धीरे से नमृता के पीछे गया और उससे पीछे से कमर में हाँथ दाल कर उठा लिया इससे मेरा लंड उसकी गांड से एक दम सट गया।

नमृता ने तुरंत मुझे झटकते हुए अलग हो गई और बोली की ये क्या कर रहे हो भइया, तो मैंने उससे बोला नमृता आज तुम गज़ब की लग रही हो मैं तुम्हे प्यार करना चाहता हूँ और मैं तुम्हे बचपन से चाहता हूँ। तो नमृता ने बोलै की आपको शर्म नहीं आती अपनी बहन के बारे में ऐसा सोचते हुए। तो मैंने कहा मेरी रानी जब तुम्हे मेरा लंड देखने में और मेरे सामने आधे बदन नहाने में शर्म नहीं आ रही तो मुझे कैसे आएगी। ये बोल कर मैंने उसके सर को पकड़ कर अपने होंठ उसके होंठो से सटा दिया और ज़ोर से उसके होंठो को चूसने लगा और मैंने एक हाँथ से उसकी राइट साइड की गांड दबाने लगा और लेफ्ट साइड में मैंने हाँथ से कमर को पकड़ा।

मैंने नमृता को ज़ोर से पकड़ा था और वो मुझसे छूटने की कोशिश कर रही थी। मैंने उससे 3 मिनट तक उसके होंटो को चुस्त रहा और उसकी गांड दबाता रहा। Oh My God क्या बड़े बड़े और मस्त गांड थी उस समय वो छत मुझे जन्नत लग रही थी। फिर मैंने देखा की अब कुछ कुछ नमृता भी कमज़ोर पड़ती जा रही थी, क्योकि मैंने उससे बड़ी ज़ोर से पकड़ा हुआ था। बारिश अभी भी पूरी रफ़्तार में बरस रहा था। मैंने नमृता के होंटो को छोड़ उसके चुच्चो (boobs) को उसके सलवार के ऊपर से ही दबाने और चूसने लगा अब मैं पुरे जोश में आते जा रहा था। मैंने नमृता की सलवार उठा कर और एक हाँथ उसकी समीज़ में दाल कर उसकी पैंटी (Panty) में हाँथ को दाल दिया और उससे सहलाने लगा।

नमृता अब सिर्फ “मुझे छोड़ दो भईया गलत हैं” ऐसा बोले जा रही थी लेकिन मै कहाँ सुनने वाला था मैं तो अपनी धुन में ही था और उसकी गांड और चुच्चे को दबाये जा रहा था। मैंने उसकी सलवार को निचे से पकड़ कर हांथो से खींचने लगा और मैंने उसकी सलवार निचे से ज़ोर से खींच कर उतार दी, उसकी नंगी टांगो को देख कर मुझे और जोश आ गया और मै उसकी टांगो को चूमता हुआ उसकी टांगो पर पड़ने वाली बारिश की बूंदो को चूस रहा था और अपनी जीभ से उसकी टांगो को चाट और चुम रहा था।

टांगो को 5 मिनट तक चूमता रहा और नमृता अब उससे भी मज़्ज़ा आने लगा था, वो सिर्फ आँखे बंद करे हुई थी मैंने अब तुरंत उसकी समीज़ भी ऊपर से खींच कर निकल दी अब मैंने उससे ज़मीन पर लेटा दिया, छत के चारो तरफ से दिवार होने के कारण हमे कोई भी अगल बगल के लोग नहीं देख सकते थे अब मेरी प्यारी बहन नमृता ब्रा और पैंटी में थी। मैं उसके गोर बदन को देखकर पागल हो गया एक तो गारा और मस्त बदन ऊपर से पानी का पड़ना, क्या बताऊ दोस्तों गज़ब की फिगर लग रही थी। मैंने उसके पेट को पहले चूमा और चूमते हुए उसकी चूचियो की तरफ बढ़ा मैंने अब नमृता की एक हाँथ से चूची दबाना शुरू किया और नमृता के होंटो को चूसने लगा।

नमृता अब थोड़े जोश में आ गई थी और सी सी सी की आवाज़ निकाल रही थी। मैंने नमृता की ब्रा को ऊपर से आज़ाद कर दिया उसके टाईट ब्रा के खुलते ही उसकी प्यारी और मस्त चूचिया आज़ाद हो गई। मै उसकी चूचियों  निप्पल को दबाने लगा और बीच में उससे चूस और काट भी रहा था, मैं धीरे धीरे उसके बदन को चूमता हुआ उसकी जांघो के पार आया और नमृता की गुलाबी पैंटी को खिंच कर उतर दिया मैंने जैसे ही पैंटी उतरी नमृता ने अपने पैरो को मोड़ लिया जिससे उसकी चुत छिप गई।

मैंने नमृता के दोनों पैरो को ज़ोर लगा के हटाया नमृता की चुत गुलाबी और टाईट लग रही थी और उस पर काले काले हलके बाल थे मैं अब उसकी चुत को चूमने लगा मैंने नमृता की गुलाबी बुर के दोनों पंखो को  हटाया और उससे अपनी जिब्भ से चाटने लगा। Wow क्या टेस्ट था मेरी बहन की चुत का मैं उसकी चुत को चूसते जा रहा था मैंने देखा अब नमृता भी जोश में आ गई थी और उसके मुह से आह की आवाज़  आ रही थी। करीब 10 मिनट नमृता की चुत चूसने के बाद मैंने नमृता की टाईट चुत में एक ऊँगली घुस्सा कर फिंगरिंग स्टार्ट कर दी नमृता मेरे हाँथ को पकड़ कर निकलने की कोशिश कर रही थी, लेकिन मैंने उसके हांथो को हटाया और उसकी फिंगरिंग करता रहा।

मैंने देखा की उससे सफेद टाइप की कोई चीज़ चुत से निकल रही हैं, मैं समझ गया की मेरी रानी का पानी गिरने लगा हैं मैंने झट से झुक कर उससे चाटने लगा इधर नमृता एक दम पागलो की तरह Ohh Ohh Ohh की आवाज़ किये जा रही थी। मेरा 9 inch का लंड भी अब पूरी तरह से टाईट हो गया था, अब मुझे देर करना ठीक नहीं लगा तो मैंने नमृता के पैरो को उठा कर फैलाया और अपना लंड उसकी चुत पर रखा और जोर से धका मारा। मेरा आधा लंड मेरी प्यारी बहन नमृता की चुत में घुस गया और नमृता की ज़ोर से चीख निकल गई “ahh muyyy aaaahh oooohhhhh darrraddd hooo rrrrrrrhaaaaa haaiiiiiii aaaaahhh” भईया दर्द हो रहा हैं निकालो जल्दी “आहहह ” और वो धीरे धीरे रोने लगी।

मैंने उससे कहा मेरी जान बस थोड़ी देर में मज़्ज़ा आने लगेगा और ये कह कर मैं उसके ऊपर लेट कर उसके गुलाबी निप्पल को चूसने और उसकी चूचियों को दबाने लगा फिर भी नमृता सर हिला रही थी और मेरे हांथो को पकड़ कर मुझे हटाने की कोशिश कर रही थी साथ ही आह आह आह कर रही थी। मेरा आधा लंड नमृता की चुत में था और मुझसे बर्दाश नहीं हुआ और मैंने नमृता की कमर को हांथो  पकड़ केर ज़ोर से एक शॉट मार दिया और इस बार मेरा पूरा लंड नमृता की चुत में गुस्स गया, मैंने तुरंत अपने एक हाथ से उसके मुँह को दबा दिया जिसे नमृता की आवाज़ दब के रह गई मैंने देखा दर्द से नमृता की आँखों से अंशू गिर रहे थे और वो जोर जोर से अपनी कमर को हिला रही थी ताकि अलंड उसकी चुत से निकल जाए।

मैंने झुक कर उसके आंशुओ को चूस लिया और फिर उसके मुँह से हाथ को हटा कर उसके होंटो को चूसने लगा थोड़ी देर ऐसे ही करने के बाद मैंने अपने लंड को निकल कर एक जोर का शॉट मारा और मेरा लंड नमृता की चुत के जड़ तक गुस्स गया, अब मेरे लंड के बाल और उसकी चुत के बाल एक दम सट गए थे मै पुरे जोश में नमृता की चुदाई करने लगा। नमृता के मुँह से सिर्फ आह आह निकल रही थी और मैं जोर जोर से उसकी चूचियों को दबाते हुए उसकी चुत में लंड आगे पीछे किये जा रहा था। करीब 5 मिनट लगातार चोदने के बाद मैंने देखा की अब नमृता को थोड़ी शांत लग रही थी और आंखे बंद करके आह आह आह आह आह किये जा रही थी।

मैंने अपने लंड को चुत से बाहार निकला और नमृता की कमर को पकड़ कर उससे डोग्गी स्टाइल में कर दिया नमृता घुटनो के बल डोग्गी स्टाइल में हो गई क्योकि मैं नमृता को गांड की तरफ से चोदना चाहता था ताकि उसकी रसभरी गांड का मज़्ज़ा ले सकू। उसके बाद मैंने नमृता रानी की चुत में अपना लंड गुस्सा कर उसे पूरी रफ़्तार में चोदने लगा, चोदते समय मेरा पूरा लंड उसकी चुत में जा रहा था और मेरे आंड उसकी गोरी गांड से टच हो रहे थे, मै उस समय हैवान के जैसा फील  रहा था। करीब 15 मिनट की चुदाई के बाद मैंने अपना रस नमृता की छूट में ही गिरा दिया। मैं अब पूरी तरह से थक गया था मैं नमृता के बगल में ज़मीन पर ही लेट गया, नमृता भी आँखे बंद कर के लेती हुई थी।

मैंने सोये हुए सोचा की ये मैंने क्या कर दिया पता नहीं नमृता क्या करेगी इतने में नमृता मेरे तरफ मुड़ कर के बोली “भईया आप बहुत बेदर्दी से करते हो”। मै सुन कर हैरान था की मुझे लगा की वो मुझे डाँटेगी फिर उसने बोला की भईया मुझे मालूम था, कि मेरे सोने के बाद मुझे ये सब करते हो और जब आप ब्लू फिल्म देखते थे तो मैंने भी छुप कर देखा हैं तो इस पर मैंने पूछा की तो तुमने कुछ बताया क्यों नहीं तो नमृता ने बोला “भईया मुझे भी मज़्ज़ा आता था”। और ये कह कर वो मुझसे लिपट गई और मेरे गालो को किश (Kiss) करने लगी।

थोड़ी देर में हम दोनों ठंडे हो गए। नमृता ने मुझे प्यार से मरते हुए कहा की “मै आप से ये सब कभी नहीं करवाउंगी आप बहुत जोर से करते हो” और मुझे मरने लगी मैंने उससे किश (kiss) कर के शांत कराया और बोला “मेरी प्यारी बहन मुझे माफ कर दो मैं तुम्हारे प्यार में पागल होकर ऐसा किया” और फिर हमने कपडे बदले और सो गए। तो दोस्तों ये थी मेरी कहानी अगली कहानी का इंतज़ार कीजिएगा मैं जल्द ही लिखूंगा। तो दोस्तों कैसी लगी मेरी कहानी, प्लीज बुरा हो या अच्छा मुझे रिप्लाई जाऊर कीजियेगा।

पैसेवाले बॉस की जवान बेटी की बुर चुदाई की कहानी

दोस्तो, मेरा नाम आर्यन है. मैं दिल्ली में रहता हूँ. अभी मेरी उम्र 34 साल है. मेरी हाइट 5 फुट ...
Read More
गर्लफ्रेंड की बहन की चूत में उतारा लंड

गर्लफ्रेंड की बहन की चूत में उतारा लंड का खंजर!

दोस्तो, मैं अंश राजस्थान से हूँ. यहां  ये मेरी पहली देसी कॉलेज सेक्स कहानी है. यह एक सच्ची सेक्स कहानी ...
Read More
पापा ने अपनी साली मेरी मौसी को चोदा

पापा ने अपनी साली मेरी मौसी को चोदा – हिंदी कहानी

दोस्तो, मेरा नाम रोहित है और  मैं आपको मेरी असली जीजा साली की चुदाई कहानी सुनाता हूं जो कुछ साल ...
Read More
विधवा पड़ोसन भाभी को चोद के खुश किया

लोकडाउन में विधवा पड़ोसन भाभी को चोद के खुश किया

दोस्तो, मेरा नाम हितेश है और मैं गुजरात में रहता हूँ. मेरी उम्र 35 साल है और जॉब के कारण ...
Read More
देसी अम्मी को चोदा पराये आदमी ने

देसी अम्मी को चोदा पराये आदमी ने – चीटिंग सेक्स कहानी

मेरे घर में अम्मी अब्बू के अलावा मैं और मेरे दो छोटे भाई बहन भी हैं. अब्बू की एक छोटी ...
Read More
पड़ोसन भाभी रूबी को चोदा कोरोना लोकडाउन में

पड़ोसन भाभी रूबी को चोदा कोरोना लोकडाउन में

दोस्तो, इस हॉट पड़ोसन की चुदाई स्टोरी में मैंने करोना काल में चुदाई की मस्ती का रस भरने की कोशिश ...
Read More

Leave a Comment