छत पर सलवार खोलकर चोद डाला- Antarvasna Sex Story

शाम के 6:00 बज रहे थे और मैं छत पर टहलने के लिए चला गया जब मैं अपनी छत पर टहलने के लिए गया तो मैंने उस वक्त अपने दोस्त रंजीत को फोन किया। रंजीत से काफी समय से मेरी बात नहीं हुई थी रंजीत अब जॉब करने के लिए इंदौर चला गया है रंजीत के साथ कुछ देर मैंने बात की मैंने जैसे ही फोन रखा तो मैंने देखा कि सामने की छत पर एक लड़की है।

सामने के घर पर गोविंद अंकल रहते हैं वह अक्सर हमारे घर पर आते जाते रहते हैं लेकिन मैंने उस लड़की को कभी उस घर में पहले नहीं देखा था। मैं काफी देर तक उसे देखता रहा उसने मेरी तरफ एक दो बार देखा लेकिन उसके बावजूद भी उसने मुझे जैसे नजरअंदाज कर दिया था।

उसके बाद मैं अपने घर पर आ गया था उस वक्त 7:30 बज रहे थे मां मुझे कहने लगी कि कमलेश बेटा तुम्हारे पापा आने वाले हैं तुम जल्दी से जाकर चीनी ले आओ। घर में चीनी खत्म हो चुकी थी इसलिए मैं अपने घर के पास की ही दुकान में चीनी लेने के लिए चला गया, मैं चीनी लेकर 10 मिनट बाद ही वापस लौट आया था।

मैं जैसे ही घर पहुंचा तो उस वक्त पापा भी घर पर आ चुके थे पापा काफी थके हुए थे तो माँ ने उनके लिए चाय बनाई और थोड़ी देर बाद मां ने उन्हें चाय दी तो पापा मुझसे कहने लगे कि कमलेश तुमने आगे क्या सोचा है। मैंने पापा से कुछ नहीं कहा मैंने कुछ दिनों पहले ही अपनी नौकरी छोड़ दी थी क्योंकि मेरे सर के साथ मेरा झगड़ा हो गया था इसलिए मैं नौकरी नहीं करना चाहता था लेकिन अब मेरे पास और कोई रास्ता भी नहीं था।

पड़ोसन की चूत की आग बुझाई (Hindi Desi Chudai)

मुझे घर पर दो महीने हो चुके थे दो महीने से मेरे पास कोई भी काम नहीं था मुझे भी लगने लगा था कि मुझे अब नौकरी कर लेनी चाहिए। अगले ही दिन से मैं इंटरव्यू देने के लिए जाने लगा लेकिन मेरे हाथ हर रोज निराशा ही लगती। मैं एक दिन एक कंपनी में इंटरव्यू देने गया और वहां पर मेरा सिलेक्शन हो गया जब मेरा उस कंपनी में सिलेक्शन हुआ तो उसके बाद मैं वहां पर जॉब करने लगा।

मैं हर रोज सुबह ऑफिस जाता और शाम को घर लौट आता मेरे जीवन में कुछ भी नया नहीं था। एक दिन मैं घर लौट रहा था तो मैंने उसी लड़की को देखा जिसे मैंने एक दिन छत पर देखा था वह अपने फोन पर किसी से बात कर रही थी वह मेरे आगे आगे चल रही थी तभी अचानक से उसका पर्स नीचे गिर गया।

मैंने उसका पर्स उठाया और उसे आवाज़ देते हुए रोका जैसे ही वह पीछे मुड़ी तो मैंने उसे कहा कि आपका पर्स छूट गया था उसने अपना पर्स वापस लिया। वह किसी से फोन पर बात कर रही थी इसलिए मुझसे उसने बात नहीं की और फिर मैं भी अपने घर निकल चुका था मैं जब घर पहुंचा तो मां मुझे कहने लगी कि कमलेश बेटा तुम काफी ज्यादा थके हुए नजर आ रहे हो।

मैंने मां से कहा हां मैं काफी ज्यादा थक चुका हूं क्योंकि आज ऑफिस में कुछ ज्यादा ही काम था मैंने मां से कहा कि मां मेरे लिए तुम चाय बना देना। मां कहने लगी बस बेटा मैं अभी तुम्हारे लिए चाय बना देती हूं। मां ने मेरे लिए चाय बनाई और जब मां ने मेरे लिए चाय बना कर लाई तो मैंने चाय पी और उसके बाद मैं अपने रूम में चला गया।

मैं अपने रूम में कपड़े चेंज कर के बैठक में आया तो पापा भी आ चुके थे पापा मुझसे कहने लगे कि कमलेश बेटा तुम्हारी जॉब कैसी चल रही है। मैंने पापा से कहा कि पापा मेरी जॉब तो अच्छी चल रही है पापा और मैं एक दूसरे से बात कर रहे थे तो पापा ने मुझे कहा बेटा कुछ दिनों के लिए मेरे एक दोस्त हमारे घर पर आएंगे तो पापा मुझे कहने लगे कि तुम उन्हें कल सुबह रेलवे स्टेशन लेने के लिए चले जाना। मैंने पापा से कहा ठीक है मैं कल सुबह उन्हें लेने के लिए स्टेशन चला जाऊंगा।

सोनम की चूत से खून निकल आया (Hindi Sex Story)

अगले दिन सुबह मैं जब उन्हें लेने के लिए स्टेशन जा रहा था तो मैंने उस लड़की को दोबारा से देखा जो कि हमारे पड़ोस में रहने के लिए आई थी वह सुबह कहीं जा रही थी लेकिन उससे मेरी अभी तक बात नहीं हो पाई थी। मैं उस दिन रेलवे स्टेशन चला गया और पापा के दोस्त को मैं घर ले आया था।

मैं उस लड़की से बात करना चाहता था लेकिन मेरी उससे अभी तक कोई बात नहीं हो पाई थी एक दिन मैं छत पर ही था और वह भी छत पर आ गई। जब वह छत पर आई तो वह मुझसे बात करने लगी और कहने लगी कि मेरा नाम पायल है औऱ उस दिन मैं आपको थैंक्यू भी नहीं कह पाई क्योंकि मैं मम्मी से बात कर रही थी।

मैंने उसे कहा कोई बात नहीं मैंने भी उसे अपना नाम बताया। उसने मुझे बताया कि वह कुछ दिनों पहले ही गोविंद जी के घर पर रहने के लिए आई थी वह गोविंद अंकल के घर पर किराए पर रहती है और किसी हॉस्पिटल में वह जॉब करती है। मैं पायल से काफी देर तक बात करता रहा, और उसके बाद भी हम लोगों की बातें होती रही हम दोनों जब एक दूसरे से मिलते तो अक्सर बातें किया करते थे।

अब हम दोनों की मुलाकात कुछ ज्यादा ही होने लगी थी मुझे पायल से बात करना अच्छा लगता पायल जब भी परेशान होती तो वह मुझसे जरूर मदद लिया करती और मुझे भी पायल की मदद करना अच्छा लगता था।

एक दिन पायल अपने किसी दोस्त के घर पार्टी में गई हुई थी तो उसे आने में देर होने वाली थी पायल ने मुझे फोन किया और मैं उस दिन पायल को रिसीव करने के लिए चला गया पायल हमेशा ही कहती कि कमलेश तुम बहुत अच्छे हो। हम दोनों की अच्छी दोस्ती हो चुकी थी लेकिन शायद मेरे दिल में उसके लिए कुछ था मैं पायल से प्यार करने लगा था और पायल को मैं पसंद करने लगा था।

पायल को मैंने एक दिन छत पर मिलने के लिए बुलाया पायल छत पर आ गई उस दिन मैंने पायल से अपने दिल की बात कह दी। शाम का अंधेरा था इसलिए छत में कोई भी नहीं दिखाई दे रहा था धीरे-धीरे अंधेरा बढ़ने लगाया था पायल और मैं ही साथ में थे। जब पायल को मैंने अपने दिल की बात कही तो वह भी मना ना कर सकी और उस दिन मैंने पायल को अपने गले लगा लिया गले लगाने के बाद हम दोनों की गर्मी बढ़ती ही चली गई।

चचेरी भाभी ने दिया पहली चुदाई का अनुभव- Desi Bhabhi Ki Chudai

मै पायल के बदन के गरमाहट को महसूस कर पा रहा था छत पर ही मैंने उसे किस कर लिया जिस छत पर मैने उसे पहली बार देखा था। मैंने जब उसे पहली बार देखा तो उसे मैंने किस कर लिया था अब तो जैसे पायल मेरी हो चुकी थी और अपने आपको बिल्कुल भी रोक नही पाई।

मैंने जब उसके स्तनों को दबाना शुरू किया तो वह पूरी तरीके से उत्तेजित होने लगी और उसे बहुत ही ज्यादा आनंद आने लगा वह इतनी ज्यादा उत्तेजित हो गई थी कि वह बिल्कुल भी रह नहीं पा रही थी और मुझे कहने लगी मैं बिल्कुल भी रह नहीं पा रही हूं।

मैंने भी उसके कपड़े उतारे और जब मैंने उसके सलवार के नाडे को खोलते ही उसके सलवार को नीचे किया तो वह मुझे कहने लगी कमलेश कहीं कुछ होगा तो नहीं मैंने उसे कहा कुछ नहीं होगा जैसे ही मैंने उसकी पैंटी के अंदर हाथ डाला तो उसकी चूत को सहलाना शुरु किया वह उछल पड़ी और कहने लगी मेरी चूत से पानी बहुत ज्यादा निकलने लगा है।

मैंने उसकी पैंटी को उतार और उसकी चूत को मैं चाटने लगा जब मैं ऐसा कर रहा था तो उसकी चूत से बहुत अधिक पानी बाहर की तरफ निकल रहा था। मैंने अपने लंड को उसकी चूत पर सटाया तो वह मुझे कहने लगी तुम अब अपने मोटे लंड को मेरी चूत मे डाल दो।

मैं चाहता था पहले वह मेरे लंड को सकिंग करे और उसने मेरे लंड को मुंह मे लिया मेरे लंड को वह मुंह के अंदर बाहर कर रही थी तो मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा था और वह भी बहुत ज्यादा खुश थी। मेरे अंदर की गर्मी लगातार बढ़ती ही जा रही थी लेकिन जब मैंने उसके मुंह के अंदर अपने वीर्य को गिराया तो उसने उसे अंदर ही निगल लिया अब वह खुश हो चुकी थी जैसे उसके अंदर की ताकत बढ़ चुकी थी।

उसने अपनी चूतड़ों को मेरे सामने किया मैंने उसकी चूत की तरफ देखा तो उसकी चूत से बहुत अधिक मात्रा में पानी बाहर निकल रहा था मैंने उसकी योनि पर अपने लंड को सटाते हुए डालना शुरू किया जैसे ही मेरा आधा लंड उसकी चूत में घुसा तो वह चिल्लाने लगी थी मैंने उसे कहा बस थोड़ा सा ही रह गया तो वह मुझे कहने लगी तुम्हारा लंड कितना लंबा है मेरी चूत में दर्द हो रहा है।

मकान मालकिन की मखमली चूत- Antarvasna

मैंने उसकी पतली कमर को कस कर पकड़ लिया और अब मैंने उसे जोर से धक्का दिया जिसके साथ ही मेरा लंड उसकी योनि के अंदर जा चुका था वह जोर से चिल्लाई और उसकी चूत से खून बाहर की तरफ निकल गया मैंने उसे कहा मुझे आज मजा आ गया।

वह मुझे कहने लगी मजा तो मुझे भी आ रहा है लेकिन बहुत दर्द हो रहा है मेरा लंड पायल की योनि के अंदर पूरी तरीके से सेट हो चुका था इसलिए उसे भी अब अच्छा लग रहा था। मै उसे तेजी से चोद रहा था वह बोली जब तुम ऐसा कर रहे हो तो मुझे मजा आ रहा है।

मैं उसकी चूत के अंदर बाहर अपने लंड को किए जा रहा था और उसकी गर्मी को मैंने अच्छी तरीके से बढा कर रख दिया था वह मुझे कहने लगी तुमने तो मेरी चूत की गर्मी को पूरी तरीके से बढा कर रख दिया है। उसकी योनि से पानी कुछ ज्यादा ही बाहर की तरफ को निकलने लगा था इसलिए मुझे एहसास होने लगा था कि शायद वह ज्यादा देर तक मेरा साथ नहीं दे पाएगी मैंने उसे कहा मुझे लगने लगा है तुम मेरा ज्यादा देर तक साथ नहीं दे पाओगी।

वह कहने लगी हां कमलेश तुम ठीक कह रहे हो मैं झडने वाली हूं उसकी चूत से इतना अधिक पानी निकल चुका था कि मैंने जब उसकी चूत के अंदर अपने वीर्य को गिराया तो वह खुश हो गई और कहने लगी आज तुमने मेरी इच्छा को पूरा कर दी है मैं बहुत ही खुश हूं।

उस दिन के बाद हमारी प्यार की शुरुआत हो गई मैने पहली बार उसे छत पर देखा था और छत पर मैंने पायल के साथ चूत चुदाई का आनंद लिया।

मौसी को अपनी बीवी बना के चोदा चोदी की

कैसे हो प्यारे दोस्तो? मुझे उम्मीद है कि आप लोग सब मजे कर रहे होगे. आपके इसी मजे को बढ़ाने ...

शादी के बाद भी कुंवारी रही लड़की की चुदाई की कहानी

प्यारे दोस्तो … मेरा नाम आशीष है भीलवाड़ा राजस्थान से हूँ. मैं XXXVasna का पुराना पाठक हूँ. काफी दिनों से ...

गांड मारकर गुड मॉर्निंग कहा- Sexy Bhabhi Ki Chudai

मैं काम के सिलसिले में मुंबई चला आया क्योंकि हमारा शहर बहुत छोटा है और वहां पर मुझे ऐसा कुछ ...

भैया बन गए सैंया- Bhai Behen ki Chudai

मेरे 12वीं के एग्जाम नजदीक आने वाले थे और मैं बहुत घबराई हुई थी क्योंकि मैंने इस वर्ष अच्छे से ...

पापा अपनी छमिया के साथ- Romantic Sex Story

हेलो दोस्तो। मेरा नाम पारुल (उम्र २०) है। मैं अपनी ज़िन्दगी की पहली कामुक कहानी आप लोगों को पेश कर ...

कामवाली के साथ रंगरेली मनाई- Kaamvali Ki Chudai

कामुक कहानी पढ़ने वाले दोस्तों को मेरा नमस्कार। मेरा नाम मोहन गुप्ता (उम्र २२) है। मैं नोएडा में रहता हूँ। ...