चूत मारने की पहली रात- Girlfriend ki Chudai

कॉलेज की पढ़ाई होने के दौरान मेरा कैंपस प्लेसमेंट में सिलेक्शन हो चुका था मैं जॉब करने के लिए बेंगलुरु चला गया बेंगलुरु में काफी समय तक जॉब करने के बाद मैं दिल्ली की कंपनी में जॉब करने लगा क्योंकि दिल्ली में ही मेरा घर है इसलिए अपने परिवार के साथ मैं रहने लगा था।

मैं काफी वर्षों से अपने परिवार से दूर था इसलिए मुझे अब पापा और मम्मी के साथ काफी अच्छा लग रहा था। एक दिन मैं सुबह ऑफिस के लिए तैयार हो रहा था मेरी घड़ी मुझे मिल नहीं रही थी तो मैंने अपनी मां को आवाज़ लगाते हुए कहा कि मम्मी मुझे मेरी घड़ी नहीं मिल रही है मम्मी रसोई से आई और कहने लगी कि आकाश बेटा कल तुमने अपने मेज पर ही तो घड़ी को रखा था।

मैंने जब अलमारी में देखा तो मुझे मेरी घड़ी मिल गई मैं जल्दी से अपनी घड़ी पहन कर अपने ऑफिस के लिए निकलने की तैयारी में था तो मां मुझे कहने लगी की बेटा पहले तुम नाश्ता कर लो।

मैंने मां से कहा मां मेरा नाश्ता करने का मन नहीं है मैं बाहर ही कुछ खा लूंगा मां कहने लगी कि बेटा तुम्हें नाश्ता तो करना ही पड़ेगा उसके बाद तुम चले जाना।

मां की बात भला मैं कैसे टाल सकता था इसलिए मुझे नाश्ता करना पड़ा और मैं जल्दी से अपने ऑफिस के लिए निकल गया लेकिन रास्ते में काफी ज्यादा ट्रैफिक था इसलिए मुझे ऑफिस पहुंचने में भी देर हो गई। मैं जब ऑफिस पहुंचा तो उस दिन हमारे ऑफिस में एक जरूरी मीटिंग थी जब हमारे बॉस के साथ हमारी मीटिंग खत्म हुई तो सब लोग अपना काम करने लगे समय का पता ही नहीं चला कब शाम हो गई और मैं घर जाने की तैयारी करने लगा।

सेक्सी बहन ने लंड में तबाही मचा दी- Bhai Behen ki Chudai

मेरे साथ ही ऑफिस में काम करने वाले सुनील ने मुझे कहा कि आकाश क्या तुम मुझे मेरे घर तक ड्रॉप कर दोगे तो मैंने सुनील को कहा ठीक है सुनील मैं तुम्हें तुम्हारे घर तक ड्रॉप कर दूंगा। उस दिन मैंने सुनील को उसके घर तक ड्रॉप कर दिया उसके बाद मैं अपने घर चला आया जब मैं अपने घर आया तो पापा भी अपने ऑफिस से लौट चुके थे पापा और मैं हम सब साथ में बैठे हुए थे तो पापा ने मुझसे कहा कि आकाश बेटा तुम्हारी बहन सुहानी के लिए कई रिश्ते आ रहे हैं।

मैंने पापा से कहा पापा हां पहले सुहानी से इस बारे में पूछ तो लीजिए तो वह मुझे कहने लगे कि बेटा मैंने सुहानी से इस बारे में तो पूछ लिया था लेकिन सुहानी ने कहा कि अभी वह अपनी जॉब करना चाहती है। उसी दिन मैंने सुहानी से जब इस बारे में पूछा तो सुहानी ने मुझे अजय के बारे में बताया अजय उसके कॉलेज में ही पढ़ता था और अजय बैंक में जॉब करता है।

जब सुहानी ने मुझे अजय के बारे में बताया तो मैंने सुहानी को कहा सुहानी तुम्हें यह बात मुझे पहले बता देनी चाहिए थी और पापा और मम्मी को भी इस बारे में बता देना चाहिए था। सुहानी मुझे कहने लगी कि भैया मुझे पापा और मम्मी को यह बात कहना ठीक नहीं लगा लेकिन मुझे लगा कि मुझे आपको यह बात बता देनी चाहिए क्योंकि पापा और मम्मी मेरे लिए लड़का तलाशने लगे हैं।

मैंने सुहानी को कहा चलो कोई बात नहीं मैं पापा से इस बारे में बात कर लूंगा एक दिन मैं अपने ऑफिस से लौटा उस दिन पापा काफी खुश नजर आ रहे थे तो मुझे लगा कि आज पापा से बात करना ठीक रहेगा। उस दिन मैंने पापा से अजय के बारे में बात की पापा ने भी मुझे कहा कि बेटा मैं अजय से मिलना चाहता हूं उन्होंने सुहानी से अजय के बारे में पूछा। जब कुछ दिनों के बाद अजय घर पर आया तो पापा ने उससे बारे में पूछा और उसके परिवार वालों से पापा मिलना चाहते थे अजय ने कहा कि उसके पापा मम्मी चंडीगढ़ में रहते हैं।

बड़े बूब्स को दबाने का मज़ा- Big Boobs Sex Kahani

अजय के परिवार वालों से जब पापा और मम्मी मिले तो उन्हें उनका परिवार भी अच्छा लगा और अजय से पापा ने सुहानी की शादी करवाने का फैसला कर लिया था सुहानी इस फैसले से बहुत ज्यादा खुश थी और उसने मुझे कहा कि भैया यह सब आपकी वजह से ही हुआ है। मैंने सुहानी को कहा देखो सुहानी इसमें मैंने तुम्हारी कोई मदद नहीं की तुमने मुझे सही समय पर अजय के बारे में बता दिया तो मैंने भी पापा को इस बारे में बता दिया था।

पापा चाहते थे कि सुहानी की शादी धूमधाम से हो और हमारे सारे रिश्तेदार शादी में आए इसलिए पापा ने जब हमारे रिश्तेदारों को कार्ड भिजवाने शुरू किए तो पापा ने उसके बाद उन्हें फोन भी किया कि आप लोगों को शादी में जरूर आना है।

अब सुहानी की शादी का दिन तय हो चुका था और जिस दिन सुहानी की शादी थी उस दिन सुहानी काफी सुंदर लग रही थी सुहानी की सहेलियां भी शादी में आई हुई थी लेकिन सुहानी की सहेली काव्या मुझे बहुत अच्छी लगी।

काव्या से मैं पहली बार ही मिला था लेकिन उससे मिलकर मुझे अच्छा लगा और उसके बाद भी काव्या और मेरी मुलाकात होती रही। हालांकि अब सुहानी की शादी हो चुकी थी और सुहानी अपने ससुराल में ही थी लेकिन काव्या और मैं एक दूसरे को डेट करने लगे थे मुझे काव्या का साथ काफी अच्छा लगता और उसे भी मेरे साथ बहुत अच्छा लगता था।

मैं चाहता था कि काव्या के साथ मैं अपना जीवन बिताऊँ इसलिए मैंने काव्या से कहा कि मैं तुम्हें अपने पापा मम्मी से मिलवाना चाहता हूं तो काव्या ने मुझे कहा कि आकाश क्या यह सही समय है कि हम लोग तुम्हारे परिवार वालों से मिले और क्या वह मुझे स्वीकार करेंगे मैंने काव्या को कहा काव्या तुम उसकी चिंता मत करो पापा और मम्मी तुम्हें जरूर स्वीकार कर लेंगे मैंने कुछ समय बाद काव्या को अपने पापा और मम्मी से मिलवाया तो वह लोग काव्या से मिलकर बहुत खुश थे और उन्होंने काव्या के पापा मम्मी से मिलने की बात कही।

कुछ दिनों बाद वह लोग काव्या के मम्मी पापा से मिले और सब कुछ इतनी जल्दी मे हुआ कि मुझे कुछ पता ही नहीं चल पाया कब हम दोनों की सगाई हो गई और उसके बाद हम दोनों की शादी भी हो चुकी थी। अब हम दोनों की शादी हो गई और हम दोनों पति-पत्नी बन चुके थे।

हम दोनों की शादी हो जाने के बाद जब हम दोनों की सुहागरात की पहली रात थी तो मैं उसे कुछ खास बनाना चाहता था। काव्या घुंघट मे थी वह मेरा इंतजार कर रही थी मैं और काव्य एक ही बिस्तर में थे। मैंने काव्या से कहां आखिरकार हमारी शादी हो ही गई।

मेरा लंड नौकरानी की गांड मे- Fantasy Sex Story

यह पहला मौका था जब मैं काव्या के साथ सेक्स करने जा रहा था जब काव्या के होठों को मैंने चूसना शुरू किया तो वह तड़पने लगी और उसकी तडप बढ़ती जा रही थी। मैंने अपने लंड को बाहर निकाल दिया जब मैंने अपने लंड को बाहर निकाला तो उसने अपने बदन से सारे कपड़े उतार दिए और मेरे लंड की तरफ देखा तो उसने मुस्कुराते हुए अपने हाथों मे मेरे लंड को लेने लगी और मुझे कहा तुम्हारा लंड तो बहुत ही ज्यादा मोटा है।

मैंने उसे कहा तुम मेरे मोटे लंड को अपनी चूत में कैसे लोगी? तो वह खुश हो गई यह सुनते ही उसने मेरे लंड को अपने मुंह के अंदर ले लिया जब उसने मेरे लंड को मुंह मे लेकर चूसना शुरू किया तो मुझे बहुत ही अच्छा लगने लगा। वह भी बहुत ज्यादा खुश हो गई थी मुझे इस बात की खुशी थी कि काव्या की चूत मे मारने वाला हूं वह जिस प्रकार से मेरे लंड का रसपान कर रही थी उससे मेरी गर्मी और भी ज्यादा बढ़ती ही जा रही थी।

मैंने काव्या के पैरों को चौड़ा किया और उसकी चूत पर जब मैंने अपनी जीभ को लगाया तो वह मुझे कहने लगी आपने तो मेरी चूत की गर्मी को बढ़ा दिया है। मैंने उसे कहा मुझे तुम्हारी चूत के अंदर अपने लंड को घुसाना है उसकी चूत से कुछ ज्यादा ही पानी बाहर की तरफ को निकलने लगा था वह बहुत ही ज्यादा गर्म होने लगी थी।

उसने मुझे कहां तुम मेरी चूत मे लंड डाल दो मैंने भी उसके पैरों को खोलो और उसकी चूत के अंदर अपने लंड को डाल दिया जब मेरा लंड उसकी योनि के अंदर प्रवेश हुआ तो वह जोर से चिल्लाई और मुझे कहने लगी मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा है।

मैंने उसके दोनों पैरों को खोल दिया था जिससे कि मै आसानी से उसकी योनि के अंदर बाहर लंड को कर सकू। बड़ी आसानी से मेरा लंड उसकी चूत के अंदर बाहर हो रहा था वह बहुत तेज आवाज मै सिसकिया ले रही थी उसकी सिसकिया इस कदर बढ़ने लगी थी कि मैंने काव्य से कहा तुम अपने पैरों को थोड़ा और खोल लो उसने अपने पैरों को खोलने की कोशिश की लेकिन मुझे मजा नहीं आ रहा था तो मैंने उसके दोनों पैरों को अपने कंधों पर रख लिया।

भाभी सेक्स की प्यासी, देवर चूत का प्यासा- Hot Bhabhi Sex story

जब मैंने उसके पैरों को अपने कंधों पर रखा तो मैं उसे बड़ी तेजी से चोदने लगा था मैने उसकी चूत की तरफ देखा तो उसकी योनि से खून निकल रहा था। जब उसकी योनि से खून बाहर निकल रहा था तो मुझे बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा था और उसे भी काफी अच्छा लग रहा था।

उसने मुझे कहा मुझे बहुत ही मजा आ रहा है आप ऐसे ही मेरी चूत के अंदर बाहर अपने लंड को करते रहिए। मैंने उसकी चूत के अंदर बाहर अपने लंड को किया जिससे कि वह बहुत ही ज्यादा खुश हो गई थी और मुझे कहने लगी मुझे बहुत अच्छा लग रहा है लेकिन जब मैंने उसे घोड़ी बनाकर उसकी चूत मे अपने लंड को तेल लगाकर डाला तो वह तड़पने लगी थी।

उसकी चूतडे मुझसे टकरा रही थी वह जब मुझसे अपनी चूतड़ों को टकराती तो मेरे अंदर एक अलग ही प्रकार की गर्मी पैदा हो रही थी मेरे अंदर इतनी ज्यादा गर्मी पैदा हो गई थी कि मैंने उसे कहा मैं अब बिल्कुल भी रह नहीं पा रहा हूं।

वह कहने लगी आप अपने माल को मेरी चूत में ही गिरा दो मैंने भी अपने माल को उसकी चूत में गिरा कर अपनी गर्मी को पूरी तरीके से शांत कर लिया था वह भी बड़ी खुश थी।

मौसी को अपनी बीवी बना के चोदा चोदी की

कैसे हो प्यारे दोस्तो? मुझे उम्मीद है कि आप लोग सब मजे कर रहे होगे. आपके इसी मजे को बढ़ाने ...

शादी के बाद भी कुंवारी रही लड़की की चुदाई की कहानी

प्यारे दोस्तो … मेरा नाम आशीष है भीलवाड़ा राजस्थान से हूँ. मैं XXXVasna का पुराना पाठक हूँ. काफी दिनों से ...

गांड मारकर गुड मॉर्निंग कहा- Sexy Bhabhi Ki Chudai

मैं काम के सिलसिले में मुंबई चला आया क्योंकि हमारा शहर बहुत छोटा है और वहां पर मुझे ऐसा कुछ ...

भैया बन गए सैंया- Bhai Behen ki Chudai

मेरे 12वीं के एग्जाम नजदीक आने वाले थे और मैं बहुत घबराई हुई थी क्योंकि मैंने इस वर्ष अच्छे से ...

पापा अपनी छमिया के साथ- Romantic Sex Story

हेलो दोस्तो। मेरा नाम पारुल (उम्र २०) है। मैं अपनी ज़िन्दगी की पहली कामुक कहानी आप लोगों को पेश कर ...

कामवाली के साथ रंगरेली मनाई- Kaamvali Ki Chudai

कामुक कहानी पढ़ने वाले दोस्तों को मेरा नमस्कार। मेरा नाम मोहन गुप्ता (उम्र २२) है। मैं नोएडा में रहता हूँ। ...