हॉट भाभी ने देवर का लंड चूसा और चुदवाया – AntarvasnaStory.co.in

सेक्सी सुनीता भाभी मर्दों के लंड के लिए तरस रही हैं. अपनी इच्छा पूरी करने के लिए उसने अपने देवर और सुनीता को भी अपने सेक्सी जाल में फंसा लिया हॉट सौतेली बहन ने अपने सौतेले भाई का लंड चूसा और गड़बड़ हो गई

सुनीता भाभी को अंतर्ज्ञान की कहानियाँ और सबसे महत्वपूर्ण भाभी सेक्स कहानी मुझे पढ़ना अच्छा लगता था। गंदी कहानियाँ पढ़ने के मज़े के लिए टेक्स्टिंग कर रहा था।

क्योंकि सुनीता अपने पति और देवर के साथ दिल्ली में रहती है। परिवार दूर रहती थी सुनीता के पति काम में काफी व्यस्त रहते थे। और उसका छोटा भाई यानी सुनीता का साला ज्यादातर समय घर पर ही रहता था क्योंकि वह एक वेल्ला आदमी था। उसके पास करने के लिए कोई खास काम नहीं था, इसलिए वह घर पर ही रहता था।

सुनीता इन कहानियों से बहुत प्रभावित हुई और मैंने अक्सर सोचा कि क्यों न अपने देवर को फंसाया जाए ताकि वह उसे शारीरिक संतुष्टि दे सके।

क्योंकि सुनीता का पति बहुत व्यस्त रहता था और उसके अलावा मुर्गा बहुत छोटा थासुनीता इतने छोटे लिंग से संतुष्ट नहीं पहले उसकी शारीरिक संतुष्टि पूर्ण नहीं थी।

सुनीता दिखने में बेहद हॉट और सेक्सी थी और उनके बड़े ब्रेस्ट उन्हें और भी आकर्षक बना रहे थे। सुनीता का हट्टा-कट्टा बदन और झुकी हुई कमर देखकर किसी के भी लंड से पानी निकलने लगता है.

और तुम्हारा हत्यारे की शैली इसी बात का फायदा उठाकर सुनीता ने देवर पर डोरे डालना शुरू कर दिया।

वह हर दिन नई है सुंदर साड़ी पहनो वह अपने जीजा को खुश करने की कोशिश कर रही थी। और हमारे देवर भी कम नहीं थे, बहुत जल्दी सुनीता की तरफ आकर्षित हो गए क्योंकि मर्द तो मर्द होते हैं।

देवर को जल्द ही पता चल गया कि ननद उससे कुछ चाहती है जो उसका भाई उसे देने में असमर्थ है। वह स्पष्ट रूप से समझ गया था कि वह अपनी भाभी को दबाना चाहती थी, लेकिन उसे पहल करनी पड़ी।

वह दूसरे दिन बाथरूम में नहा रहा था। और वह जानबूझकर तालिया नहीं लाया, और फिर उसने अपनी भाभी को बुलाया।

भाभी…मेरा तौलिया ले आओ, मैं अपना तौलिया लाना भूल गई!!!

और सुनीता देवर के लिए तौलिया लेकर दौड़ी चली आई।

जैसे ही वह लेकर आई तो देवर ने जानबूझकर बाथरूम का दरवाजा खुला छोड़ दिया। और सुनीता ने अपने जीजाजी का अद्भुत हृष्ट-पुष्ट शरीर देखा। और अपने लंबे, मोटे लंड के साथ जो एक खंभे की तरह खड़ा था।

देखिए सुनीता के अंदर कामुक्ता पूर्ण आसक्ति मैं उठा और भाभी वासना की भूखी रहने लगी। वह बड़ी जोर से सांस लेने लगी और देवर को बड़ी उमस भरी निगाहों से देखने लगी।

जीजा भी बड़ा कमीना था क्योंकि उसने वह सब किया और सब कुछ समझा। वह अपनी भाभी के पास गया और उसकी आँखों में देखने लगा।

देवर – क्या हुआ भाभी, तुम मुझे ऐसे क्यों देख रही हो ?!

भाभी – पता नहीं क्यों मैं आपको देखना चाहती हूँ पर आपको देखकर मन तो अंदर ही अंदर खुश हो जाता है !!

देवर- तो क्यों न आज हम एक दूसरे का आग बुझा दें, भाभी।

इतना कहते ही देवर ने सुनीता भाभी को मीठा, नर्म, तेलदार बना दिया। रसदार होंठ चूसना वह भाभी के होठों को चूस रही थी। भाभी उसके होंठ चूस रही थी। भाभी ने उसी जिह्वा को चाटा और उसका वासनायुक्त रस पी लिया।

फिर उसने देवर की गर्दन पर चुंबन करना शुरू कर दिया, जबकि उसके पेट तक पहुँचने के लिए और फिर उसके लिंग को चुनने के लिए। भाभी जीजा का बड़ा लम्बा लंड मुँह में लेकर चूसने लगी.

भाभी – ओह !! सौतेले भाई…तेरा लंड इतना बड़ा और मोटा है,तेरे भाई का लंड पिचकारी के बराबर है !!

देवर – तो बस यही वजह है कि तुम मेरी और मेरी तरफ आकर्षित हो गए गोली मारने की कोशिश करता है कर रहा था

भाभी अब और बात करो मत कीजिये जब सब समझते हैं।

अब मैं तुम्हारा लंड अपने मुँह में ले लेता हूँ।

भाभी – जाओ…जाओ…तुम्हारा जीजा कितना बड़ा लम्बा लंड है अरे मैं यह सब अपने मुँह में नहीं ले सकता !!

लेकिन फिर भी थोड़ा चाटने की कोशिश करो।।

और वो अपने जीजा के लंड को चूसने लगी, मैंने उसकी जीभ को इस तरह निचोड़ा जैसे मैं आइसक्रीम चूस रहा हूँ.

देवर – हाँ भाभी… हाँ भाभी… ऐसे करो… मुझे तो बड़ा मज़ा आ रहा है !!

फिर देवर ने भाभी को खड़ा किया और अपना लंड भाभी की गुलाबी चूत पर रगड़ने लगा.

भाभी!! आइए!! आह !! अब मेरे पास बहुत कुछ है खुद को परेशान नहीं करते… जीजाजी… मेरे अंदर समा जाओ!!!

देवर ने उसकी तरफ नहीं देखा और उसने खड़े-खड़े अपना सीधा लंड भाभी की चूत में घुसा दिया.

भाभी चिल्लाई – आह……….ओह……हाय…चलो!!! जारी रखें!! जारी रखें!!

सौतेले भाई के लंड में घुसते ही सौतेली बहन को दो बार चरम सुख मिला.

देवर- क्या हुआ भाभी? क्या आपको दर्द हो रहा है? आपका अपना पेशाब निकल गया पूर्व!!!

भाभी- आ जाओ… ना रे पगले…। यह वासना और खुशी बाहर आती है !!!

देवर अपने बड़े लंड से भाभी की चूत को चोदने लगा. वह शक्ति के साथ भाभी गुस्से में था।

हर बार जब वह अपनी भाभी की चूत पर घूंसा मारता था तो भाभी के बड़े गोल स्तन ऊपर नीचे हो जाते थे।

यह नजारा देखकर वाकई बहुत खुशी हुई वासना का आनंद बहनोई के पास होना चाहिए। ननद के सुन्दर कोमल वक्षों को देखकर देवर का मन अशांत हो गया।

और ननद को घोड़े की तरह घाछघाघाघघाछ देता रहा, साथ ही भाभी के मीठे और कोमल होंठ बड़ों पर भी चाटता रहा।

सौतेली बहन – हाँ…हाँ…सौतेला भाई.. अपनी वेश्या सौतेली बहन को चोदो, तुम्हारी सौतेली बहन को वेश्या बनाकर चोदनामुझे पसंद करो अन्तर्वासना का इतिहास मैं सौतेली बहनों को चोदता हूँ !!!

देवर- हां भाभी तुम मेरी कुतिया बनो आज से… तुम मेरी कमबख्त मालकिन हो… अब चलो… चलो… मौज करो

फिर उसने अपनी सौतेली बहन को फर्श पर लिटा दिया और अपनी सौतेली बहन की चुदाई करने लगा। समुद्र के ऊपर से पानी निकल रहा था और देवजी पत्थरों के नीचे से !!

मैंने भाभी के दोनों हाथों को पकड़ कर एक पूरे झटके से भाभी की चुदाई की. इस झटके की बौखलाहट में भाभी के बड़े-बड़े स्तन गुब्बारे की तरह उठकर नीचे गिर पड़े।

वह अपनी सौतेली बहन को बहुत जोर से चोद रहा था, वह अपनी सौतेली बहन को इस तरह से चोद रहा था कि सौतेली बहन हमेशा चोदना चाहती थी।

भाभी – हां.. हां.. भाभी को ऐसे चोदो और भाभी को वेश्या बनाओ!!!

और बहनोई कुछ आश्रयों में गिरने वाले थे।

देवर – आ जा भाभी मेरी भाभी गिरने के बारे में नहीं भाभी !!

भाभी-जीजाजी, अपना सारा सामान, अपनी सारी मलाई मेरी चूत में भर दो। तुम्हारा बड़ा भाई मूर्ख है, उसे कुछ नहीं होगा, वहाँ केवल तुम हो मुझे माँ बनाओ

और सौतेले भाई ने अपनी पूरी कार मरी हुई गोल-मटोल सौतेली बहन की चूत में भर दी…

उसकी चूत की एक-एक बूंद उसने अपनी ननद की चूत में भर दी, जिससे उसकी भाभी और उन दोनों को बेहद खुशी हुई। कामुक आनंद उसे ढूँढो।

परिवार बकवास मेरे भीतर ऐसी हरकतें होती रहती हैं और अक्सर लोग अपनी इच्छा पूरी करने में परिवार के महत्व को भूल जाते हैं। ऐसी थी ये भाभी देसी सेक्स स्टोरी, हम आपके लिए ऐसे ही मजेदार किस्से लाते रहते हैं। तो हमारी साइट AntarvasnaStory.co.in लेकिन आओ।

आपको कहानी कैसी लगी?

मौसी को अपनी बीवी बना के चोदा चोदी की

कैसे हो प्यारे दोस्तो? मुझे उम्मीद है कि आप लोग सब मजे कर रहे होगे. आपके इसी मजे को बढ़ाने ...

शादी के बाद भी कुंवारी रही लड़की की चुदाई की कहानी

प्यारे दोस्तो … मेरा नाम आशीष है भीलवाड़ा राजस्थान से हूँ. मैं XXXVasna का पुराना पाठक हूँ. काफी दिनों से ...

गांड मारकर गुड मॉर्निंग कहा- Sexy Bhabhi Ki Chudai

मैं काम के सिलसिले में मुंबई चला आया क्योंकि हमारा शहर बहुत छोटा है और वहां पर मुझे ऐसा कुछ ...

भैया बन गए सैंया- Bhai Behen ki Chudai

मेरे 12वीं के एग्जाम नजदीक आने वाले थे और मैं बहुत घबराई हुई थी क्योंकि मैंने इस वर्ष अच्छे से ...

पापा अपनी छमिया के साथ- Romantic Sex Story

हेलो दोस्तो। मेरा नाम पारुल (उम्र २०) है। मैं अपनी ज़िन्दगी की पहली कामुक कहानी आप लोगों को पेश कर ...

कामवाली के साथ रंगरेली मनाई- Kaamvali Ki Chudai

कामुक कहानी पढ़ने वाले दोस्तों को मेरा नमस्कार। मेरा नाम मोहन गुप्ता (उम्र २२) है। मैं नोएडा में रहता हूँ। ...

Leave a Comment