शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया–3

कहानी के दूसरे भाग शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया–2 में आपने पढ़ा कि किस तरह से मैंने शिवानी मौसी की ज़ोरदार ठुकाई की। अब कहानी आगे………… शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया–3

अब मौसी मेरे लंड पर आ गई और मौसी ने मेरे लन्ड को पकड़ लिया। अब मौसी मेरे लंड को मसलने लगी।
मौसी– ओह साले कुत्ते,बहुत मोटा तगड़ा लंड है तेरा तो।
मैं– हां मेरी रण्डी। अब मेरा लन्ड तेरा ही है।अच्छे से चूसना साली रण्डी।
मौसी– आज तो चूस चूस कर तेरे लंड का पानी निकाल दूंगी मादरचोद।
मैं– हां साली हरामजादी निकाल दे मेरे लन्ड का पानी।

फिर मौसी ने थोड़ी देर मेरा लन्ड मसला और फिर मौसी ने मेरे लन्ड को मुंह में ले लिया। अब मौसी लंड पकड़कर चूसने लगी। अब मैं मौसी के बालो को संवारने लगा। मौसी लपक लपककर मेरे लन्ड को चूस रही थी। मुझे मौसी को लंड चूसाने में बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था।

मैं– ओह साली रण्डी,आह बहुत मज़ा आ रहा है। ऐसे ही चूस।आह आह।

मौसी रण्डी की तरह मेरे लन्ड को चूस रही थी। बीच बीच में मौसी मेरे लंड को बाइट भी कर रही थी। मौसी मेरे पूरे लंड को मुंह में डालने की कोशिश कर रही थी लेकिन मेरा लन्ड मौसी के मुंह में पूरा नहीं घुस पा रहा था।

मैं– आह आह ओह साली छीनाल, आह आह आह चूसती रहे।बहुत मज़ा आ रहा है।
मौसी मेरे लन्ड पर टूट पड़ी थी।वो मेरे लन्ड का माल निकालने की कोशिश कर रही थी लेकिन मेरे लन्ड का माल निकल नहीं रहा था। मौसी बहुत ज्यादा कोशिश कर रही थी।

मौसी– साले कुत्ते अच्छे अच्छे लंडो का पानी निकाल चुकी हूं मै लेकिन तेरा लंड का क्यों नहीं निकल रहा है?
मैं– साली कुत्ती ये मेरा लन्ड है, तुझसे पानी नहीं निकलेगा।
मौसी– रुक साले भैंन के लौड़े।, दिखाती हूं तुझे अभी मै क्या चीज़ हूं।

तभी मौसी ने फिर से मेरे लन्ड पर खतरनाक हमला कर दिया और।मौसी बुरी तरह से मेरे लन्ड को चूसने लगी। मौसी मेरे लंड का पानी निकालने के लिए तड़प रही थी लेकिन मेरे लन्ड का। पानी नहीं निकल रहा था। टाइम कम था इसलिए मैंने मौसी को अब बेड पर पटक दिया और उनकी टांगो को फोल्ड कर दिया। अब मैंने फिर से मौसी की चूत में लंड ठोक दिया। अब मेरा लन्ड मौसी की चूत में फिर से घमासान मचाने लगा।

मौसी– ऊंह आह आह ओह ऊंह आह आईईईई ओह कुत्ते। हरामी।
मैं– बहुत मज़ा आ रहा है साली रण्डी तुझे बजाने में आह।

फिर मैंने थोड़ी देर मौसी को ताबड़तोड़ पेला। अब मैं मौसी को नीचे ले आया। अब मैं खड़ा हो गया और मौसी नीचे बैठ गई। अब मैंने मौसी से फिर से मेरा लन्ड चूसने के लिए कहा। अब मौसी फिर से मेरा लन्ड चूसने लगी। मेरा लन्ड सक सक मौसी के मुंह में अंदर बाहर हो रहा था। मौसी फिर से मेरे लन्ड का माल निकालने की कोशिश करने लगी। मैं मौसी के बालो को संवार रहा था। मौसी ने फिर बहुत देर तक मेरे लन्ड को चूसा लेकिन लंड का माल नहीं निकाल पाई। Maa Beta Sex Story

मैं– अब देख भैन की लौड़ी।

अब मैंने मौसी के मुंह को पकड़ा और उसमे लंड डाल दिया। अब मैं मौसी के सिर को पकड़ कर मौसी के मुंह को चोदने लगा। मुझे मौसी के मुंह को चोदने में बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था।

मैं– ओह साली रण्डी,आज तो तेरे मुंह में माल भरूंगा।

तभी मैंने मौसी के मुंह में पूरा लन्ड ठोक दिया। अब मौसी को सांस लेना भी मुश्किल होने लगा फिर मैंने लंड को बाहर निकाला तब जाकर मौसी को शांति मिली।फिर से मैंने मौसी के मुंह में लंड ठोक दिया। शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया–3

मै– ओह साली छीनाल आज तो बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा है।आह आह

अब मैं ज़ोर ज़ोर से मौसी के मुंह को चोदने लगा। अब मेरा लन्ड माल निकलने वाला था तभी मैंने मौसी के मुंह में लंड दबाया और लंड का माल मौसी के मुंह में भर दिया।फिर मौसी ने मेरे लन्ड का माल पी लिया। अब मेरा लन्ड ढीला पड़ चुका था। मैं थोड़ी देर नीचे ही लेट गया।

मौसी– बहुत बुरी तरह से पेलता है साले मादारचोद ।
मैं– ज़ोर ज़ोर से पेलने में ही मज़ा आता है साली हरामजादी।

अब मौसी मेरे लंड को हिला हिलाकर खड़ा करने की कोशिश करने लगी।फिर मौसी ने मेरे लन्ड को। चूसा और मेरा लन्ड फिर से खड़ा हो गया। अब मैं उठा और मौसी को दीवार से चिपका लिया। अब मैं मौसी के बूब्स पकड़कर मौसी की चिकनी पीठ पर किस करने लगा। अब मौसी फिर से सिसकारियां भरने लगी।

मौसी– ऊंह आह आह ओह ऊंह उन्न कुत्ते।

मैं मौसी की पीठ पर झमाझम किस कर रहा था। इधर मेरा लन्ड मौसी की गांड़ में घुसने के लिए तड़प रहा था। अब मैं मौसी के कंधो पर किस करने लगा। मुझे मौसी के कंधो पर किस करने में बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था। मौसी बहुत ज्यादा कसमसा रही थी।

मौसी– ऊंह आह अहा ओह ऊंह आह आह आह।
अब मैंने मौसी की चूत में उंगलियां घुसा दी और मौसी की चूत को खुजाने लगा। अब मौसी बहुत ज्यादा तड़पने लगी।
मौसी– आह आह आईईईई आह आह ओह कुत्ते मत कर।बहुत ज्यादा दर्द हो रहा है।
मैं– ओह साली रण्डी करने दे बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा है।

मौसी– आईईईई आईईईई ओह कुत्ते मेरी जान निकल रही है।आईईईई आईईईई।
मैं बुरी तरह से मौसी की चूत में उंगलियां घुसा रहा था। मौसी बहुत ज्यादा तड़प रही थी।
मौसी– ओह भैन के लौड़े। छोड़ दे मुझे। मैं।मर जाऊंगी।
मैं– आज तो तुझे नहीं छोडूंगा साली रण्डी।
मौसी– आह आह। आह आईईईई आह अहा मर गई। मैं तो। शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया–3

मौसी दर्द से बहुत ज्यादा तड़प रही थी। मौसी की गांड़ फटकर हाथ में आ चुकी थी।फिर मैंने बहुत देर तक मौसी की चूत को सहलाया। अब मैं नीचे बैठ गया और मौसी की गांड़ पर किस करने लगा। मुझे मौसी की गांड़ पर किस करने में बहुत ज्यादा आ रहा था। मौसी चुपचाप खड़ी थी। मैं मौसी की गांड़ पर बाइट भी करने लगा।फिर मैंने थोड़ी देर मौसी के चूतड़ों पर बहुत सारे किस किए। अब मैं खड़ा हो गया और मौसी को मेरी तरफ कर लिया। Desi Sex Kahani

शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया–3

अब मैं मौसी के बूब्स को चूसने लगा। मैं ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए मौसी के बूब्स को चूस रहा था।आज तो मैं मौसी के बूब्स की हालत खराब कर चुका था। मैं लपक लपककर मौसी के बूब्स चूस रहा था।

मौसी– आह आह ओह आईईईई ओह कुत्ते।आईईईई। आज तो तूने मुझे पूरी लूट लिया।
फिर मैंने बहुत देर तक मौसी ने बूब्स चूसे। अब मैंने मौसी को घोड़ी बनने के लिए कहा। अब मौसी बेड पकड़कर घोड़ी बन गई। अब मैंने मौसी की गांड़ में लंड सेट कर दिया।

मौसी– रोहित अब थोड़ी जल्दी कर, हमें बहुत देर हो गई है।
मैं– हां मौसी।
तभी मैंने ज़ोर से मौसी की गांड़ में लंड ठोक दिया। मौसी मेरे लंड के एक ही झटके में से बिलबिला उठी।
मौसी– आईईईई मर गई।आईईईई आईईईई।
तभी मैंने मौसी को दूसरा ज़ोर का झटका दिया और मौसी की गांड़ फट गई।
मौसी– आईईईई आईईईई आह।आईईईई।ओह कुत्ते।

मौसी मेरे लन्ड के दो झटको से बुरी तरह हिल गई। अब मैं मौसी की गांड़ में धमा धम लंड पेलने लगा। मौसी की गांड़ में लंड पेलने में बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था। मौसी बहुत बुरी तरह से मेरा लन्ड गांड़ में लेे रही थी।मुझे तो मौसी की गांड़ मारने में बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था। शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया–3

मौसी– आहा आहा आहा आईईईई ओह कुत्ते, आहा आहा आईईईई ओह मम्मी, आहा आहा आईईईई बस कर साले।
मौसी बहुत बुरी तरह से तड़प रही थी। तभी मौसी बुरी तरह से हिल गई और उनकी चूत में से रस नीचे बहने लगा। मौसी झड़ चुकी थी। मैं अभी भी मौसी की गांड़ में झमाझम लंड पेल रहा था।

मौसी–ओह ओह आह आह आईईईई आईईईई ओह आह आह आईईईई आईईईई ओह आह आह आह आह आह बस कर कुत्ते।
मैं– हां बस थोड़ी देर और मेरी रण्डी।
फिर मैंने बहुत देर तक मौसी की गांड़ मारी। अब मैं मौसी को उठाकर वापस बेड पर ले आया।

मौसी–रोहित यार बहुत टाइम लगा रहा है तू,दीदी किसी भी टाइम वापस आ सकती है?
मैं–अरे मौसी आपकी बहुत ज्यादा गांड़ फट रही है। मम्मी अभी नहीं आएगी। उन्हें मार्केट में टाइम लगेगा।

अब मैं मौसी पर चढ़ गया और उन्हें रसीले बूब्स को चूसने लगा। मौसी की डर के मारे गांड़ फट रही थी। मैं मस्ती में डूबकर मौसी के बूब्स चूस रहा था। मुझे मौसी के बूब्स चूसने में बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था। मौसी मेरे बालो में हाथ डालकर उन्हें सहला रही थी। मैं बारी बारी से मौसी के दोनो बूब्स चूस रहा था। Antarvasna Story

मैं– ओह मौसी,बहुत सेक्सी बूब्स है तेरे।
मौसी– चूस ले साले कुत्ते।बहुत शौक है ना तुझे बूब्स चूसने का लेकिन जल्दी कर।
मैं– क्यो मौसाजी नहीं चूसते है क्या बूब्स?
मौसी– अरे वो तो सिर्फ चूत में लंड डालते हैं और कुछ नहीं।

मैं अब तक मौसी के बूब्स चूस चूस उन्हें लाल कर चुका था। अब तक मै मौसी के बूब्स बुरी तरह से रगड़ चुका था। अब मैं मौसी की चूत पर आ गया और उनकी टांगो को फोल्ड कर दिया। अब मैंने मौसी की चूत पर लंड सेट किया और फिर जोर से धक्का देकर लंड उनकी चूत में ठोक दिया।मौसी फिर से बिलबिला उठी। शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया–3

मौसी– आईईईई आईईईई ओह कुत्ते आऊं बहुत ज्यादा दर्द हो रहा है।आह अहा अहा आईईईई आईईईई धीरे धीरे चोद।
मैं– ओह रण्डी अब तो ज़ोर ज़ोर से ही बजाऊंगा तुझे।

अब मैं जल्दी जल्दी मौसी की चूत में लंड ठोकने लगा।मौसी फिर से दर्द से करहाने लगी।मेरा लन्ड मौसी को अभी भी भारी पड़ रहा था। मैं मौसी की चूत में जमकर लंड पेल रहा था।आज तो मै मौसी के जिस्म के कतरे कतरे को हिला चुका था।

मौसी– आह अहा अहा अहा आईईईई आह ऊंह आईईईई आईईईई ओह कुत्ते।मर गई आज तो। आह आह आईईईई ओह।
मैं–ओह रण्डी बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा है तुझे पेलने में।आह।

तभी मौसी की चूत में रसधार फुट पड़ी और मौसी पानी पानी हो गई।मेरा लन्ड मौसी के रस में पूरा भीग चुका था। अब फिर से रूम में गच्छ गछ फैच्च फ्फच की आवाज़ गूंजने लगी।
मौसी– अब बस कर यार कुत्ते,बहुत पेल लिया तूने।
मैं– अभी तो और पेलना है मेरी रण्डी।
मौसी– नहीं बस अब निकाल दे यार।
मैं– नहीं मौसी अभी नहीं।

मौसी बार बार लंड का पानी निकालने के लिए बोल रही थी लेकिन मै अभी और मज़ा लेना चाहता था। अब मैंने मौसी को पलट दिया और फिर उनकी गांड में लंड ठोक दिया। मौसी फिर से बुरी तरह बिलख उठी।
मौसी– आईईईई आईईईई आईईईई आईईईई ओह भैन के लौड़े, मर गई मै तो।बहुत ज्यादा दर्द हो रहा है।आईईईई आईईईई आईईईई।

मौसी मेरे लन्ड के नीचे बुरी तरह से तड़प रही थी। अब मैं मौसी की गांड़ में झमाझम लंड बरसाने लगा।मौसी अब बहुत बुरी तरह से दर्द से तड़पने लगी। अब मौसी मम्मी के आने की बात भूल चुकी थी। मैं मौसी की बुरी तरह से गांड़ मार रहा था।

मौसी– आईईईई आईईईई आईईईई ऊंह आहा आहा आईईईई आहा ओह आह आह साले इससे अच्छा तो चूत चोद रहा था वो ही बढ़िया था। बहुत दर्द हो रहा है इसमें तो यार।
मैं– लेकिन मज़ा भी तो आता है साली रण्डी।
मौसी– हां अब तू थोड़ी ही मानेगा, पूरी बजाकर छोड़ेगा आज तो मुझे।
मैं– हां मेरी रण्डी। शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया–3

मैं मौसी से चिपक कर उनकी अच्छी तरह से गांड़ मार रहा था।फिर धीरे धीरे मौसी का दर्द कम हुआ और उनको भी गांड़ मरवाने में मज़ा आने लगा।फिर मैंने बहुत देर तक मौसी की गांड़ मारी। अब मैंने मौसी को फिर से पलट दिया और उनकी टांगो को फोल्ड कर उसमे लंड पेल दिया। अब मैं गांड़ हिला हिलाकर मौसी को फिर से चोदने लगा।

मौसी– साले कुत्ते अब तो निकाल दे जल्दी से।बहुत देर हो चुकी है।
मैं– हां रण्डी निकाल रहा हूं अब।

अब मुझे मौसी को चोदते हुए बहुत देर हो चुकी थी।आज तो मै मौसी को चोदने का पूरा मज़ा ले चुका था। अब मैं भी मौसी की चूत को लंड के माल से भरना चाहता था। अब मैं ज़ोर ज़ोर से मौसी की चूत में झटके लगाने लगा।

मौसी– आह आह अहा आईईईई आईईईई ओह आह आईईईईईई आईईईई ओह ओह आह आह बस हो गया ना कुत्ते।
मैं– हां मेरी रण्डी।

तभी मैंने मौसी की चूत में लंड रोक दिया और फिर उनकी चूत को मेरे लन्ड के पानी से भर दिया। अब मौसी और मै पसीने से लथपथ हो चुके थे। आज मै मौसी को अच्छी तरह से चोदकर बहुत ज्यादा खुश था।

अब मौसी उठी और उन्होंने जल्दी ही पैंटी और ब्रा पहन ली।फिर उन्होंने पेटीकोट पहनकर साड़ी पहन ली और अब मौसी बच्चो के रूम में चली गई। अब मैं थोड़ी देर बाद उठा और मैंने भी कपड़े पहन लिए। अब शाम हो चुकी थी लेकिन मम्मी अभी तक नहीं आई थी।फिर मैंने उन्हें कॉल किया तो पता चला कि उन्हें थोड़ी देर और लगेगी। अब मैंने मौसी को ये बात बताई। शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया–3

मौका देखकर मुझे फिर से मौसी की चूत में लंड ठोकने की इच्छा होने लगी। अब मैंने मौसी के बच्चो को मोबाइल दिया और बच्चे गेम खेलने में बिजी हो गए। अब मैं मौसी के पास गया।वो किचन में काम कर रही थी।तभी मैंने मौसी के बूब्स दबा दिए।

मौसी– रोहित ये क्या कर रहा है, काम करने दे मुझे।
मैं– हां आप आपका काम करो और मै मेरा काम कर रहा हूं मौसी।
मैं किचन का गेट पहले ही बंद कर चुका था। अब मैंने धीरे धीरे मौसी के लोवर में हाथ डाल दिया और उनकी चूत में उंगली करने लगा। तभी मौसी मेरी उंगली को चूत में से बाहर निकालने की कोशिश करने लगी लेकिन मैंने उंगली बाहर नहीं निकाली। मौसी किचन में काम करती रही और मैं उनकी गरमा गर्म चूत में उंगली करता रहा।फिर मैंने तुरंत मौसी के लोवर के नाड़े को खोल दिया और उनकी पैंटी के साथ लोवर को भी नीचे खिसका दिया।

मेरी इस हरकत से मौसी चौंक गई और लोवर को पहनने के लिए नीचे झुकी तो मैंने मौसी को तुरंत घोड़ी बना दिया। मौसी उठने की कोशिश करने लगी लेकिन मैंने मौसी को नहीं उठने दिया। अब मैंने जल्दी से मौसी की चूत में लंड ठोक दिया और मौसी की कमर पकड़कर उन्हें झमाझम चोदने लगा।

मौसी– आहा आईईईई आहा आहा आईईईई आहा आहा आईईईई आहा आहा आईईईई ओह कुत्ते मत कर ना।आहा आह आह आईईईई।
मैं– मै तो करूंगा साली रण्डी। तुझे खाली नहीं छोड़ सकता हूं मेरी रण्डी।

मैं मौसी को किचन में घोड़ी बनाकर जमकर चोद रहा था। मौसी सिसकारियां भर रही थी। मौसी मौसी को चोदने में बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था।फिर मैंने मौसी को फर्श पर पटक दिया और उनकी टांगो को फोल्ड करके चूत में फिर से लंड पेल दिया। शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया–3

मौसी– आह आह आह आईईईई आईईईई ओह आह आह आईईईई आईईईई आईईईई ओह कुत्ते आह आह आह आईईईई आईईईई ओह कुत्ते।बस कर यार।

अब मैं फर्श पर मौसी को बजा रहा था। मौसी की टांगो में अभी भी उनका लोवर और पैंटी अटकी हुई थी।फिर मैंने मौसी को बहुत देर तक बजाकर उनकी चूत को फिर से मेरे लन्ड के पानी से भर दिया।

मौसी पसीने से लथपथ हो चुकी थी।फिर मौसी ने उठकर पैंटी और लोवर पहन लिया।
मौसी– बहुत बड़ा कुत्ता है तू, थोड़ा सा भी मौका नहीं छोड़ा।
मैं– बड़ी मुश्किल से मौका मिलता है मौसी फिर इतना अच्छा मौका क्यो छोड़ देता?

अब कुछ देर बाद मम्मी और सिस्टर मार्केट से वापस आ चुकी थी। आज तो मैंने मौसी को जमकर बजा दिया था।

आपको मेरी कहानी कैसी लगी मुझे मेल करके जरूर बताएं– rohit24xx@gmail.com

पैसेवाले बॉस की जवान बेटी की बुर चुदाई की कहानी

दोस्तो, मेरा नाम आर्यन है. मैं दिल्ली में रहता हूँ. अभी मेरी उम्र 34 साल है. मेरी हाइट 5 फुट ...
Read More
गर्लफ्रेंड की बहन की चूत में उतारा लंड

गर्लफ्रेंड की बहन की चूत में उतारा लंड का खंजर!

दोस्तो, मैं अंश राजस्थान से हूँ. यहां  ये मेरी पहली देसी कॉलेज सेक्स कहानी है. यह एक सच्ची सेक्स कहानी ...
Read More
पापा ने अपनी साली मेरी मौसी को चोदा

पापा ने अपनी साली मेरी मौसी को चोदा – हिंदी कहानी

दोस्तो, मेरा नाम रोहित है और  मैं आपको मेरी असली जीजा साली की चुदाई कहानी सुनाता हूं जो कुछ साल ...
Read More
विधवा पड़ोसन भाभी को चोद के खुश किया

लोकडाउन में विधवा पड़ोसन भाभी को चोद के खुश किया

दोस्तो, मेरा नाम हितेश है और मैं गुजरात में रहता हूँ. मेरी उम्र 35 साल है और जॉब के कारण ...
Read More
देसी अम्मी को चोदा पराये आदमी ने

देसी अम्मी को चोदा पराये आदमी ने – चीटिंग सेक्स कहानी

मेरे घर में अम्मी अब्बू के अलावा मैं और मेरे दो छोटे भाई बहन भी हैं. अब्बू की एक छोटी ...
Read More
पड़ोसन भाभी रूबी को चोदा कोरोना लोकडाउन में

पड़ोसन भाभी रूबी को चोदा कोरोना लोकडाउन में

दोस्तो, इस हॉट पड़ोसन की चुदाई स्टोरी में मैंने करोना काल में चुदाई की मस्ती का रस भरने की कोशिश ...
Read More

2 thoughts on “शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया–3”

  1. My whataap कोई लड़की भाभी आंटी तलाकशुदा महिला जिसकी चूत प्यासी हो ओर मोटे लड से चुदवाना चाहती हो तो मुझे कॉल और व्हाट्सएप करे सिर्फ महिलाएं….लड़के कॉल ना करे

    Reply

Leave a Comment