शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया

चूत चुदाई के सभी खिलाड़ियों को मेरा प्रणाम। मै एकबार फिर से आप सबके बीच में नई कहानी लेकर हाजिर हूं। मैं रोहित 21 साल का नौजवान लौंडा हूं।मेरा लन्ड 7 इंच लम्बा है।मेरा लन्ड अब तक कई शानदार मालों को पेल चुका है। शानदार मालों को पेलने में मुझे बहुत ज्यादा मज़ा आया था। शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया

मुझे शादीशुदा माल बहुत ज्यादा पसंद है। शादीशुदा माल को चोदने में मुझे बहुत ज्यादा मज़ा आता है। अब मैं कई मालों की चूत का पानी निकाल चुका हूं।

मैंने मेरी पिछली कहानी “गर्मियों की रात में मौसी को छत पर ठोका” में आपको बताया कि किस तरह से मैने मेरी शिवानी मौसी को छत पर चोद दिया था। अब मैं शिवानी मौसी को फिर से बजाना चाहता था।

मेरी शिवानी मौसी लगभग 31 साल की हॉट सेक्सी माल है।मौसी बहुत ज्यादा गौरी चिकनी और एकदम फिट माल है। मौसी के दो बच्चे होने के बावजूद भी मौसी ने खुद को अच्छी तरह से मेंटेन कर रखा है।मौसी के बूब्स लगभग 30 साइज के है।उनके बूब्स बहुत ज्यादा टाइट है। मौसी के बूब्स ज्यादा हिलते नहीं है। मैंने छत पर मौसी के बूब्स को खूब चूसा और दबाया था।मैंने मौसी के बूब्स का पूरा मज़ा लिया था। Aunty Sex Kahani

मौसी की गौरी चिकनी कमर लगभग 30 साइज की है।

शिवानी मौसी की गांड़ लगभग 32 साइज की है। मौसी की गांड़ की कसावट उनकी साड़ी में से अच्छी तरह से नजर आती है। मौसी के गोल गोल चूतड़ किसी को भी लंड मसलने पर मजबुर कर सकते हैं। मैंने मौसी के चूतड़ को अच्छी तरह से सहलाया और बजाया था।फिर मैंने मौसी की गांड़ में लंड ठोककर मौसी की गांड़ मारने का खूब मज़ा लिया था।

मौसी को छत पर चोदने का नज़ारा अभी भी मेरी आंखो में घूम रहा था। अब मैं फिर मौसी को बजाना चाहता था।उस रात के बाद से दो दिन निकल गए लेकिन मौसी को चोदने का मौका नहीं मिला। अब मैं मौसी को फिर से बजाने के लिए तड़पने लगा। फिर मौका मिलने पर मैंने मौसी से बात की– मौसी यार चुदाई का जुगाड भिडाओ ना, आपको बजाने की बहुत ज्यादा इच्छा हो रही है। शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया

मौसी– नहीं यार रोहित, एकबार हो गया ना।वो ही बहुत है। अब आगे और नहीं।
मैं– मेरा लन्ड आपकी चूत के चूत में घुसने के लिए बहुत ज्यादा तड़प रहा है मौसी।मै तो आपकी चूत लेकर ही रहूंगा।
मौसी– हिला लेे और खुद को शांत कर ले
मैं– मौसी हिलाने से काम नहीं चलेगा। काम तो पेलने से ही चलेगा।
मौसी– लेकिन मै नहीं देने वाली तुझे अब।
मैं– मौका मिलने दो मौसी,।मै सब लेे लूंगा।

मैं दोपहर में नहाकर बाथरूम से आ रहा था। उस टाइम मौसी फ्री बैठकर मोबाइल चला रही थी और बच्चे सो रहे थे।मम्मी बाथरूम में कपड़े धोने गई हुई थी और मेरी सिस्टर उसके रूम में बिजी थी। अब मौसी को चोदने का ये मेरे लिए सबसे अच्छा मौका था।

तभी मैंने मौसी को काम के बहाने मेरे रूम में आने के लिए कहा तो मौसी ने कहा – आ रही हूं।कुछ देर बाद जैसे ही मौसी मेरे रूम में आई तो मैंने तुरंत गेट बंद कर दिया और मौसी को दबोच लिया।मैंने मौसी को उठाकर बेड पर पटक दिया और मै मौसी के ऊपर चढ गया। मौसी भागने की कोशिश करने लगी लेकिन मैंने मौसी को अच्छी तरह से दबोच लिया।

मौसी– रोहित दीदी आ जाएगी।
मैं– आप चिंता मत करो। मम्मी नहीं आयेगी।
मौसी– अरे यार प्लीज मत कर।

तभी मैंने मौसी के होंठो को मेरे होंठो में दबा लिया और मौसी के होंठो को ताबड़तोड़ तरीके से चूसने लगा। मौसी बहुत ज्यादा डर रही थी। मैं भूखे कुत्ते की तरह मौसी के होंठो को खा रहा था। अब मैंने जल्दी से मौसी की टीशर्ट ऊपर उठा दी और मौसी के बूब्स को ब्रा में से बाहर निकाल लिया। अब मैं जल्दी जल्दी मौसी के बूब्स चूसने लगा। Desi Sex Stories

मौसी– अरे यार रोहित तू मरवाएगा मुझे।

मैं जल्दी जल्दी मौसी के बूब्स चूस रहा था। मौसी को भागने की जल्दी लगी हुई थी।फिर कुछ देर में ही मैंने मौसी के बूब्स लिए। इसी बीच मेरा टावल खुल गया और मै नंगा हो गया। अब मैं मौसी के लोवर को खोलने लगा तो मौसी ने लोवर को पकड़ लिया। शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया

मैं– मौसी लोवर खोलने दो,नहीं तो कोई आ जायेगा।
मौसी– नहीं रोहित , मुझे जाने दे।
मैं– मै आपको छोड़ दूंगा।बस एकबार चूत में डालने दो।
मैं– नहीं रोहित।

मौसी लोवर खोलने के लिए तैयार नहीं हो रही थी तभी मैंने ज़ोर से मौसी के हाथो को हटा दिया और मौसी के लोवर का नाड़ा खोल दिया। अब। मैं झटके से मौसी के लोवर और पैंटी को उतार फेंका। अब मैंने जल्दी से मौसी की टांगो को। फोल्ड कर दिया और लंड मौसी की चूत में सेट कर दिया। अब मैंने फटाफट से मौसी की चूत में लंड ठोक दिया और मौसी को चोदने लगा। अब मौसी की चीखे निकल गई।

मौसी– आईईईई आईईईई अहा अहा आईईईई।
मैं– ओह मौसी,आह मज़ा आ गया।
मौसी– आह आह आईईईई आईईईई अहा अहा ओह।
मैं– ओह मौसी,अब जाकर मेरे लन्ड को चैन मिला है।
मौसी– आह अहाईईई आह आईईईई आह आह आह।

मैं झमाझम मौसी की चूत में लंड ठोक रहा था। मौसी को चोदने में मुझे बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था।आज दो दिन बाद मेरे लन्ड मौसी की चूत की सैर कर रहा था। मैं गांड़ हिला हिलाकर मौसी को चोद रहा था। शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया

मौसी– आह आह आह आईईईई आईईईई अहा अहा। रोहित जल्दी कर यार।
मैं– हां मौसी।

अब मैं जल्दी जल्दी मौसी की चूत में लंड डाल रहा था। मौसी पूरी पसीने से लथपथ हो चुकी थी। तभी मम्मी की छत पर जाने की आवाज़ आई।

मौसी– रोहित, दीदी आ गई है।
मैं– बस मौसी हो गया काम।

तभी मैंने झमाझम लंड ठोककर मौसी की चूत में लावा भर दिया। लंड का पानी निकलते ही मौसी जल्दी से उठी और फटाफट पैंटी लोवर पहनकर रूम से बाहर निकल आईं। अब मैं निढाल होकर बेड पर पड़ गया। Romantic Sex Stories

आज दो दिन बाद मौसी को चोदने का थोड़ा सा मौका मिला था लेकिन। मैं इससे खुश नहीं था। मैं मौसी को दिल खोलकर चोदना चाहता था। मैं उस मौके का इंतजार करने लगा।फिर थोड़ी देर बाद मैं मौसी के पास गया। मौसी उस टाइम मोबाइल चला रही थी।

शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया

मैं– ओह मौसी अब जाकर थोड़ी शांति मिली है।
मौसी– बहुत ज्यादा शैतान लड़का है तू। जबरदस्ती करके खुद का काम कर ही लिया।
मैं– क्या करू मौसी,लंड के लिए करना पड़ा।
मौसी– हां हां, मै अच्छी तरह से जानती हूं तेरे लंड को।
मैं– तो फिर कोई अच्छा मौका ढूंढो ना मौसी।
मौसी– अभी जो मौका मिला था क्या वो कम था?
मैं– हां मौसी,वो तो सिर्फ काम चलाने के लिए नाश्ता था। खाना तो अभी बाकी है।
मौसी– ओह ओह गजब है तू।

मैं मौसी को अच्छी तरह से बजाने का मौका ढूंढ रहा था लेकिन मौका मिलता हुआ नजर नहीं आ रहा था।फिर अगले दिन शाम को हम छत पर घूम रहे थे।फिर कुछ देर बाद मम्मी और मेरी सिस्टर नीचे चली गई। अब छत पर बच्चे और मौसी थी।रात के लगभग 10 बजी हुई थी।

मैं– यार करो मौसी वो रात।
मौसी– हां याद है मुझे।
मैं– तो फिर याद को फिर से ताज़ा किया जाए।
मौसी– पागल है क्या तू!
मैं– मेरी तो बहुत ज्यादा इच्छा हो रही है।
मौसी– तेरा तो हमेशा ही खड़ा रहता है।
मैं– हां मौसी वो तो रहता ही है।

अब मैं मौसी को छत पर पेलने का प्लान बनाने लगा। तभी मैंने बच्चो को मोबाइल दे दिया और उन्हें नीचे जाने के लिए कहा। बच्चे मोबाइल मिलते ही तुरंत नीचे भाग गए। अब मैं मौसी को तुरंत नीचे गिरा दिया। मौसी नखरे करने लगी। शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया

मौसी– यार रोहित मरवाने का काम मत कर।
मैं– अरे मौसी, कुछ नहीं होगा।

तभी मैंने मौसी के लोवर के नाड़े को खोल दिया और लोवर पैंटी को थोड़ा नीचे खिसका दिया। अब मैंने मौसी की टांगो को फोल्ड कर दिया। अब मैंने मेरा लोवर खोल लंड बाहर निकाल लिया और जल्दी से मौसी की चूत में ठोक दिया। अब मैं छत पर दे दना दन मौसी को बजाने लगा। Antarvasna Stories

मौसी– आह आह आह आईईईई अहा आह आईईईई।
मैं– ओह मौसी,आह आह

मेरा लन्ड मौसी की चूत में पूरा घुस रहा था। मौसी की टांगो में लोवर पैंटी अटकी हुई थी। मैं जल्दी जल्दी मौसी की चूत में लंड ठोक रहा था।

मौसी– आह आह आईईईई आईईईई ऊंह आह आईईईई अब जल्दी से निकाल दे।
मैं– हां मौसी।बस निकाल ही रहा हूं।

अब मैंने जल्दी जल्दी मौसी की चूत में लंड ठोक दिया और फिर लंड के पानी से मौसी की चूत भर दी। अब मौसी ने उठकर पैंटी और लोवर पहन लिया।अब मैंने भी मेरा लोवर पहन लिया।

मौसी– बहुत शैतान है तू, थोड़ा सा मौका मिलते ही शुरू हो जाता है।
मैं– हां मौसी,तभी तो मज़ा आता है।

फिर कुछ देर बाद हम नीचे आ गए। अब मैं रातभर लंड पकड़कर सोता रहा। फिर सुबह हुई और दिन में तो मुझे पता चला कि मम्मी,मौसी और सिस्टर आज मार्केट जाएगी।बस यही मेरे लिए सबसे अच्छा मौका था। अब मुझे कैसे भी करके मौसी को यहीं रोकना था। शाम को मौसी साड़ी पहनकर अच्छी तरह से तैयार हो चुकी थी। अब मैं मौसी के पास गया।

मैं– मौसी, प्लीज आज आप मार्केट मत जाओ ना। मौका मिला है तो फायदा उठाने दो मौसी।
मौसी– नहीं यार रोहित।
मैं– प्लीज मौसी यार प्लीज।

मौसी मेरी बात सुन नहीं रही थी फिर मैंने मौसी को खूब मनाया तब जाकर मौसी रुकने के लिए तैयार हुई। अब मौसी ने बहाना बनाकर मम्मी को मना कर दिया। अब मैं मम्मी और सिस्टर के जाने का इंतजार करने लगा।फिर कुछ देर बाद मम्मी और सिस्टर मार्केट चली गई। अब मौसी को अच्छी तरह से बजाने का मेरे पास पूरा मौका था। अब मैंने बच्चो को मोबाइल में बिजी कर दिया और मै मौसी को मेरे बेडरूम में ले गया। शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया

आज साड़ी में मौसी बहुत ज्यादा सेक्सी नजर आ रही थी।आज तो मौसी के जिस्म से गजब की महक दौड़ रही थी। अब मैं गेट बंद कर दिया और मैंने मौसी को लपेट लिया। अब मैं मौसी को दीवार से सटाकर मौसी के रसीले होंठों पर टूट पड़ा और मौसी की लिपस्टिक को चूसने लगा। मौसी भी पूरी शिद्दत से मेरे होंठो को खाने लगी। अब पूरे बेडरूम में आउच पुच्छ पुच्छ पुच्छ पुच्छ आउच। आउच पुच्छ की आवाजे गूंजने लगी। मैं मौसी के रसीले होंठों को जल्दी जल्दी चूस रहा था।

तभी मेरे हाथ मौसी के बूब्स पर पहुंच गए और मै मौसी के बूब्स दबाने लगा। इधर मै मौसी के बूब्स को खाए जा रहा था। अब मैंने मौसी की साड़ी का पल्लू नीचे गिरा दिया और मौसी के ब्लाउज् में हाथ डालकर मौसी के बूब्स दबाने लगा। मुझे बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था। मैं अच्छी तरह से मौसी के बूब्स को मसल रहा था। इधर मौसी मेरे होंठो को खाने में लगी हुई थी।

अब मैंने मौसी के बूब्स से हाथ हटाकर उनके पेटीकोट में हाथ डाल दिया और मौसी की चूत को सहलाने लगा। अब मेरा एक हाथ मौसी की चूत में और दूसरा हाथ मौसी के बूब्स पर। अब मैं मौसी को बुरी तरह से रगड़ रहा था। मौसी की अब दर्द से गांड़ फट रही थी।फिर मैंने थोड़ी देर मौसी को ऐसे ही रगड़ा।

अब मैंने पूरा ध्यान मौसी की चूत सहलाने में लगा दिया। मौसी की चूत बहुत ज्यादा गर्म हो रही थी। अब मौसी कसमसाने लगी।
मौसी– ऊंह आह आह ओह आईईईई आह आह आईईईई।
मेरी उंगलियां तेज गति से मौसी की चूत को खोद रही थी। मौसी बहुत बुरी तरह से तड़प रही थी।
मौसी– ऊंह आईईईई आह ओह आह आह ओह आईईईई।

मेरी उंगलियां लगातार मौसी की चूत में अंदर बाहर हो रही थी। मौसी मेरी उंगलियों के प्रहार को ज्यादा देर तक झेल नहीं पाई और मौसी ने गरमा गरम लावा बाहर निकाल दिया।फिर थोड़ी देर और मैंने मौसी की चूत का लावा निकाला। शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया

अब मैं मौसी के चिकने गले पर किस करने लगा। अब मौसी गर्दन को इधर उधर करने लगी। मौसी धीरे धीरे आतुर होने लगी और फिर मौसी ने मुझे बाहों में कस लिया। मैं मौसी के गले पर टूटकर किस कर रहा था। मौसी बिन पानी की मछली की तरह तड़प रही थी। तभी मैंने मौसी को पलट दिया और मौसी के बालो को हटाकर मौसी की गर्दन के पीछे किस करने लगा।

अब मौसी और ज्यादा तड़पने लगी। मुझे मौसी को किस करने में बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था। इधर मेरा लन्ड मौसी की चूत में घुसने के लिए बेकरार हो रहा था। अब मैंने मौसी के कानों को मुंह में डाल लिया और उनके कानों को किस करने लगा। अब मौसी बुरी तरह से कसमसाने लगी। मुझे मौसी के कानों को किस करने में बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा था।

अब मैंने मौसी के ब्लाउज की डोरियो को खोल दिया। अब मौसी का ब्लाउज पीछे से खुल चुका था। अब मैं मेरी टीशर्ट और लोवर खोल दिया और पूरा नंगा हो गया। अब मेरा लन्ड मौसी की चूत में घुसने के लिए तड़पने लगा। अब मैं मौसी से चिपक गया और मौसी की सेक्सी हॉट पीठ पर किस करने लगा।आह! बहुत मस्त माल थी मौसी। मैं मौसी की गौरी चिकनी पीठ पर ताबड़तोड़ किस करने लगा। मौसी मादक सिसकारियां भरने लगी।

मौसी– ऊंह आह आह ऊंह आह ऊंह ओह।

मैं मौसी की पीठ पर ताबड़तोड़ किस कर रहा था।मैंने मौसी की पीठ को किस करके गीला कर दिया। इधर मेरा लन्ड मौसी की गांड़ में घुसने के लिए तड़प रहा था। अब मौसी की के बूब्स को पकड़ लिया और ज़ोर ज़ोर से मौसी के बूब्स को दबाने लगा। मौसी फिर से आहे भरने लगी। शिवानी मौसी को लंड का दम दिखाया

मौसी– ऊंह आह ऊंह ओह आईईईई आह ओह।
मैं– ओह मौसी बहुत ज्यादा मज़ा आ रहा है।आह आह।
फिर मैंने बहुत देर तक मौसी के बूब्स को मसला। अब मैंने मौसी को उठाया और बेड पर पटक दिया।

कहानी जारी रहेगी ………
आपको मेरी ये कहानी कैसी लगी मुझे मेल करके जरूर बताएं– rohit24xx@gmail.com

विधवा पड़ोसन भाभी को चोद के खुश किया

लोकडाउन में विधवा पड़ोसन भाभी को चोद के खुश किया

दोस्तो, मेरा नाम हितेश है और मैं गुजरात में रहता हूँ. मेरी उम्र 35 साल है और जॉब के कारण ...
Read More
देसी अम्मी को चोदा पराये आदमी ने

देसी अम्मी को चोदा पराये आदमी ने – चीटिंग सेक्स कहानी

मेरे घर में अम्मी अब्बू के अलावा मैं और मेरे दो छोटे भाई बहन भी हैं. अब्बू की एक छोटी ...
Read More
पड़ोसन भाभी रूबी को चोदा कोरोना लोकडाउन में

पड़ोसन भाभी रूबी को चोदा कोरोना लोकडाउन में

दोस्तो, इस हॉट पड़ोसन की चुदाई स्टोरी में मैंने करोना काल में चुदाई की मस्ती का रस भरने की कोशिश ...
Read More
मामी भांजे का लंड ले के मम्मी बन गई

मामी भांजे का लंड ले के मम्मी बन गई – हिंदी कहानी

नमस्ते, आप सभी को मेरी भानजा मामी सेक्स कहानी मामी भांजे की चुदाई की देसी कहानी पसंद आयी, उसके लिए ...
Read More
बड़े लंड से बीवी की चुदाई की

जवान लड़के ने बड़े लंड से बीवी की चुदाई की – हिंदी कहानी

दोस्तो, यह मेरी बड़ा लंड सेक्स कहानी एकदम सच्ची है, इसमें बस मैं स्थान का नाम बदल रहा हूँ. जिसके ...
Read More
सेक्सी गुजराती लेडी को चोद दिया

सेक्सी गुजराती लेडी को चोद दिया – हिंदी देसी कहानी

दोस्तो, मेरा नाम सुरेश है. मैं गुजरात से अहमदाबाद शहर का रहने वाला हूं. मैं अभी 24 साल का हूं ...
Read More