वेदिका और उसकी गांड की खुजली

हेलो दोस्तों कैसे है आप लोग जिस तरह आपने मेरी तीनो कहानियो  “मेरी बीबी और उसकी सेक्सी कामनाये”, “वेदिका और उसकी सेक्सी कामनाये”  और  “कोमल और उसकी सेक्सी कामनाये” को प्यार दिया है तो यही प्यार मुझे नयी नयी कहानिया लिखने के लिए प्रेरित करता है, जिन्होंने ये कहानिया नहीं पढ़ी है वो ये कहानिया जरूर पढ़े तो चलिए मैं अपनी कहानी पर आता हूँ, मेरी इस कहानी की हेरोइन मेरी बहन वेदिका और मेरा दोस्त शोएब है, मैंने अपनी पिछली कहानी “कोमल और उसकी सेक्सी कामनाये” में आपको बताया था की कैसे शोएब मेरी छोटी बहन कोमल को डेली चोदता था बात उस समय की है

जब वेदिका शादी के ७ महीने बाद राखी का त्यौहार मनाने घर आयी थी वेदिका की सभी सहेलियों की शादी हो गई थी और वो सब भी बहुत दिन बाद अपने घर को आयी थी, मेरी माँ राखी बांधने दूर के एक मामा के घर गई थी वेदिका ने सभी के लिए एक गेट टू गेदर रखा था कोमल कोई बहाना कर शोएब से चुदने नागपुर गई थी, वेदिका और उसके दोस्तों की पार्टी हाल में चल रही थी और मैं बगल के रूम में पढ़ाई कर रहा था,

पार्टी के दौरान वेदिका की सहेली माया ने सब को शांत करते हुए कहा की सब लोग अपने शादी के बाद चुदाई के अनुभव बताये की उनको पति अच्छे से चोदते है या उनके पुराने बॉयफ्रेंड तगड़ी चुदाई करते थे इन सहेलियों में से दो तो गर्भवती भी हो गई थी, खैर सबने अपने अनुभव बताये जिसमे कुछ के पति चोदने में दमदार थे तो किसी को अपने बॉयफ्रेंड की चुदाई याद थी, जब वेदिका की बारी आयी तो वो रुआंसी हो गई और कुछ ना बोल पायी तब उसकी एक दोस्त विभा ने उससे पूछा – साली तू क्यों चुप है जीजाजी की याद आने लगी क्या?

साली शादी की पहले हम सब किसी ना किसी से चुदवाती ही थी और तू तो एक नम्बर की चुदक्कड थी ना जाने तूने कितने लंड खा गई थी, तब वेदिका का फुट फुट कर रोने लगी और बोली – तुम सब जैसे मेरी किस्मत नहीं है, हां मैं शादी के पहले बहुतो से चुदवाती थी पर अब तो जैसे इस पर ग्रहण ही लग गया मेरा पति नामर्द है, साले का लंड १.५ इंच भी लम्बा नहीं है और आधा इंच से ज्यादा मोटा नहीं कहा मेरे पुराने यार मनु का लंड ९” लम्बा और कहा इस साले का १.५ इंच साथ ही साला मुझे हफ्ते में एक बार ही चोदता है और २-३ मिनट में ही ढेर हो जाता है और साला गांड मराने के लिए तो मै बहुत ही ज्यादा तरस गई हूँ

वो जो सुहागरात के पहले मनु ने चुदाई किया था और मेरी गांड मारा था वही मेरी आखिरी अच्छी चुदाई थी बस, चुत को तो फिर भी लंड नसीब हो जाता पर इस निगोड़ी गांड का क्या करू इसे कौन सा लंड दू , साले इस मादरचोद मनु को भी अभी ही कनाडा जाना था सोची थी १ महीने घर में रह कर रोज ४-५ बार चुदुँगी पर सब अरमानो में पानी फिर गया तब उसकी दोस्त विभा बोली – अरे साली मनु गया तो क्या हुआ तेरे दो तीन यार और भी तो है जिनसे तू पहले चुदवाती थी

उनको पकड़ ले फिर से, तब वेदिका बोली – अरे कहा रे सभी तो साले पैसे कमाने बहार गए है, तब पिंकी नाम की एक सहेली बोली – तो तू कोई नया लंड ढूढ़ ले ना  तेरे जैसी चुदक्कड एक महीने क्या सिर्फ ऊँगली से काम चलाएगी? तब वेदिका बोली – अरे नहीं रे ये विचार मेरे भी मन में आया था पर क्या है नया लंड खाने में रिस्क है अब मैं शादी शुदा हूँ, तब सोनू नाम की एक सहेली बोली – तुझे एक नया  लंड बता सकती हूँ जिसके साथ कोई रिस्क नहीं है,

तब वेदिका उत्साहित होकर बोली – साली जल्दी बता कौन है, मेरी गांड फड़फड़ा रही है नाम सुनने को तब सोनू बोली – तू तेरे भाई के दोस्त शोएब का लंड ले सकती है, वेदिका का उत्साह ठंडा हो गया और वो बोली – नहीं यार मैं और कोमल उसको राखी बांधते है, और वो भी मेरा भाई ही है तब उसकी सारी की सारी सहेलिया हसने लगी तो वेदिका बोली – क्या हुआ तुम लोग क्यों हस रही हो?

तब सोनू ने हसते हुए ही कहा – हां वो तेरे भाई ने अपनी बहन को ही चोद चोद कर २ बार गर्भवती कर दिया, वेदिका के चेहरे पर प्रश्नवाचक निशान देखकर सोनू फिर बोली – अरे साली तू तो जानती ही है की हम सब बिना लंड के एक दिन भी नहीं रह सकते, मुझे यहाँ आये हुए ६ दिन हो गए मैं अपने पुराने बॉयफ्रेंड से रोज ही चुदती हूँ, तेरे आने के एक दिन पहले मैं मेरे बॉयफ्रेंड के साथ नागपुर गए थे तो वहा एक होटल में कोमल और शोएब भी आये थे

उन्होंने हमें नहीं देखा मैंने जब रिसेप्शन पर पूछा तो उन्होंने बताया की ये दोनों यहाँ चुदाई करने अक्सर आते है और ४-५ घंटे के बाद ही वापस जाते है, और फिर पिंकी की बहन जो कोमल की सहेली है उसने भी सब बताया की शोएब कोमल को हर दिन ३-४ बार तो चोदता ही है, अब बता तू वो तुझे क्यों मना करेगा उसे भी तो नई चुत मिलेगी, तब वेदिका बोली – आज आने दे सालो को यहाँ घर पर ही लंड पड़ा है और मैं परेशान हूँ,

उसके बाद थोड़ी देर और पार्टी चली और फिर सब अपने घर चले गए शाम करीब ६ बजे शोएब और कोमल नागपुर से आये तो, वेदिका ने कोमल को कहा की मम्मी ने तुझे मामा के घर बुलवाई है ४-५ दिन रह कर वापस आ जाना साथ ही मुझे भी कहा की कोमल को यवतमाल छोड़ देना कोमल थोड़ी दुखी हो गई पर वो वेदिका की बात टाल नहीं सकती थी सो वो अपनी तयारी करने लगी उस रात वो शोएब से चुपके से चुद कर आ गई दूसरे दिन मैं कोमल को छोड़ने यवतमाल चला गया शोएब भी मेरे साथ था

यहाँ मैं बताना चाहूंगा की कोमल को पता था की मैं शोएब और उसके रिलेशन को जानता हूँ  मैं उन दोनों को अपने एक दोस्त के फार्म हाउस में लेकर गया जो रस्ते में ही था वहा पर शोएब ने कोमल को दो बार फिर से चोदा और फिर मैंने कोमल को मामा के घर छोड़ दिए, घर में वेदिका अकेली थी सो मै और शोएब रात वापस आ गए  रस्ते में शोएब थोड़ा उदास था तो मैंने उससे पूछा – क्या हो गया तब वो बोला – साले इन ६-७ महीनो में ऐसा एक दिन भी नहीं गया

जब मैंने तेरी बहन की चुत नहीं मारी है, जब तक मैं उसे २-३ बार चोद ना लू मेरे मन नहीं मानता यहाँ तक की उसके पीरियड में भी मै उसकी गांड मारे बगैर नहीं रहता अब बता मै बिना कोमल की चुत के कैसे रहूँगा तब मै बोला – अबे तूने तो कई लड़कियों को ठोका है ना तो उन्ही में से किसी को चोद ले ७-८ दिन की ही तो बात है, तब वो बोला – भाई कोमल को चोद लेने के बाद मै और किसी को नहीं चोद सकता वैसे भी मैं उससे निकाह करने वाला हूँ,

कोमल नहीं तो कोई नहीं तब मैं बोला – भाई तू कोमल से शादी करेगा तो मै तेरा साला हुआ और वेदिका तेरी साली और साली तो आधी घरवाली होती है, और फिर तू वेदिका देखकर ही तो मुठ मारना सीखा है, तब वो बोला – बात तो तेरी सही है पर वेदिका मुझ से क्यों  चुदवाने लगी उसकी तो शादी हो गई है और वैसे भी वो मनु भाई का माल है, मैंने उसे कुछ किया और उसने मनु भाई को बता दिया तो मनु भाई मेरी गांड फाड़ डालेंगे नहीं भाई मै इतना रिस्क नहीं ले सकता

मेरे लिए कोमल ही ठीक है मै ७-८ दिन उसके नाम की मुठ ही मार लूंगा तब मैंने उसे विस्तार से पार्टी की बाते बताये की कैसे वेदिका खुद ही उससे चुदने के लिए आतुर है, तब शोएब बहुत खुश हुआ और मुझे  हग करके बोला भाई मेरी वेदिका को चोदने की बड़ी तम्मना थी शायद उसने मेरी सुन ली अब देख इन ७-८ दिनों में मैं वेदिका की चुत फाड़ दूंगा मैंने कहा की मुझे दिखाना जरूर तो वो हस दिया.

हमें घर आने में रात के १२ बज गए वेदिका ने दरवाजा खोला वो नींद में ही थी मैंने उससे कहा की रात ज्यादा हो गई है तो आज शोएब यही सोयेगा इतना सुनना था की वेदिका की नींद ही उड़ गयी वो अंदर से बहुत खुश हुयी मैंने कहा की शोएब यहाँ तुम्हारे रूम में बगल वाले कोमल के रूम में सो जायेगे और मैं ऊपर वाली रूम में मैंने शोएब को आंख मारी और ऊपर जाकर रूम की लाइट बंद करके चुपके से निचे आ गया मुझे मालूम था की वेदिका की चुत की खुजली उससे आज ही शोएब से चुदने के लिए मजबूर कर देगी,

मैं कोमल के रूम के बहार खिड़की के छेद सब देखने लगा शोएब उस समय सिर्फ अंडरवियर में था और  मस्तराम की कोई किताब  पढ़ रहा था,उसका लंड चड्डी में तना हुआ था, थोड़ी देर में वेदिका उसके रूम में आयी  वेदिका ने उस समय एक शार्ट स्लीव और निक्कर पहनी थी जो उसके बदन को छुपा कम दिखा ज्यादा रहे थे वो शोएब के बिस्तर पर बैठते हुए बोली – क्या हुआ शोएब नींद नहीं आ रही है क्या? और अपने संतरे शोएब को दिखने लगी,

शोएब ने भी द्विअर्थी शब्दों में बोला – क्या करू जब तक मैं मेरी  दुधारू गाय का दो डब्बा दूध  दबा कर ना पि लू तब तक मुझे नींद नहीं आती तो वेदिका बोली – हां मेरी भी ऐसी ही गंदी आदत है जब तक लॉलीपॉप चूस ना लू नींद नहीं आती  वैसे मुझे मालूम है तुम्हारी गाय इस समय यहा नहीं है तो तुम किसी दूसरी गाय का दूध पि लो ना शायद तुमको  उसमे भी मजा आये और अपनी चूचियों को हलके से दबा दिया

शोएब बोला – अगर उस गाय को कोई प्रॉब्लम नहीं तो मुझे क्या समस्या है, और हां लॉलीपॉप तो मेरे पास भी जो मेरी गाय को बहुत पसंद है  और अपने लंड को चड्डी पर से ही जोर से दबा दिया वेदिका ने अपने ओठों पर जीभ फेरा और बोली प्लीस जल्द्दी मुझे लॉलीपॉप दिखाओ न शोएब ने अपनी चड्डी को खिसका दिया उसका ८ इंच लम्बा लंड फनफना कर बहार आ गया, वेदिका उसे थोड़ी देर आंखे फाड़कर देखती रही तो शोएब बोला- हेलो कैसा है लॉलीपॉप?

तो वेदिका का ध्यान भंग हुआ वो बोली – हाय बहुत दिन हुए ऐसा लॉलीपॉप तुम्हारी गाय तो अभी यवतमाल में है उसके तो वाकई बहुत मजे है और उसकी चड्डी पकड़ कर उसे पूरा नंगा कर दिया अब शोएब ने भी वेदिका को अपनी और खींचा और उसे जोर जोर से चूमने लगा तुरंत ही उसने उसकी स्लीव और निक्कर को उतर फेंका अब दोनों ही मादरजात नंगे थे कोमल और वेदिका की चूचियों में कोई ज्यादा फर्क नहीं था

शोएब वेदिका की चूचियों को जोर जोर से चूमने काटने लगा उसने अपने एक हाथ से उसकी चुत को सहलाने लगा वेदिका की चुत बेतहाशा पानी छोड़ रही थी, शोएब ने निचे आते हुए वेदिका की चुत पर हमला कर दिया और उसकी चुत को फैला कर उसके दाने को अपने दांतो से काटने लगा, वेदिका जोर जोर से सिसकारियां ले रही थी वो अब उफ्फ्फफ्फ्फ़ आआह एससससस इस तरह की आवाजे निकाल रही थी,

करीब ५ मिनट बाद ही वेदिका आआआआह  एसससस मुझे आइइइइइ मैं झझायड रही हु ऐसे चिल्लाते हुए झटके देते हुए जोरो से शोएब के मुँह में झड़ने लगी शोएब ने भी अपने मुँह को फाड़ कर वेदिका के मलाईदार माल को खाने लगा चुत के ऊपर के सारे माल को खाने के बाद उसने वेदिका की चुत के अंदर दो ऊँगली घुसेड़ घुसेड़ कर माल निकाल कर खाने लगा वेदिका थोड़ी तृप्त लग रही थी,

उसने शोएब को बोला – मेरे एक्स बॉयफ्रेंड मनु के अलावा तू दूसरा मर्द ही है जिससे मै झड़ी हूँ इन ५-६ दिनों में तो मजा आ जायेगा तेरे जीजा को तो चुत चूसना गन्दा लगता है, अब मुझे पूरी उम्मीद है की ये एक माह मेरा बहुत अच्छा गुजरने वाला है, मेरी बहन कोमल बहुत खुशकिस्मत है जो उसे ऐसा आशिक मिला है, ये बोल के वो शोएब के लंड को पकड़ कर उसे चूसने लगी,

शोएब अह्ह्ह करके रह गया उसने वेदिका को बोला – देख पहले एक बार चुदाई कर लेते है फिर चाहे जो करे तो वेदिका ने उसका लंड छोड़ दिया और उससे बोली – शोएब तू पहले मेरी गांड से बोहनी कर एक अरसा हुआ है गांड मराये हुए, शोएब ने बोला नेकी और पूछ पूछ उसने वेदिका को पलटा कर घोड़ी बना दिया इतनी सुन्दर गांड देखकर शोएब पागल हो गया

शायद वेदिका की गांड उसे कोमल से भी ज्यादा पसंद आयी थी वेदिका पीछे गांड करके कुतिया बन गयी वेदिका ने अपने गांड को पूरी तरह खोल दि, शोएब ने वेदिका की गांड के छेद में मुँह लगाकर उसको चाटना चालू कर दिया शोएब  ने वेदिका की गांड को अपने दोनों हाथो से जोरो से   फैला दिया, और उसमे अपनी जीभ घुसाकर फिर से चाटने लगा वेदिका अब बहुत ज्यादा  उत्तेजित हो गई और फिर से झड़ने लगी पर वो कुटिया  बनी ही रही ताकि शोएब उसकी गांड चोद सके,

अब शोएब ने वेदिका की गांड को चाटते हुए अपना बहुत सा थूक उसके अंदर भर दिया फिर वह अपना लंड  को छेद पर टिका कर एक जोरदार शॉट लगाया, वेदिका  की गांड में शोएब  का सुपाड़ा जो करीब १ इंच लम्बा और २ इंच  चौड़ा था वो अंदर चला गया वेदिका ने जोर से सिसकारी ली  आँख से आंसू निकल गए शोएब  ने फिर से थोड़ा पीछे होकर फिर एक बार जोरदार धक्का मारा इस बार लंड आधे से ज्यादा अंदर चला गया वेदिका चीख पड़ी ,

अब शोएब वेदिका के बालो को पकड़ कर उसकी गांड में जोर जोर से चाटे लगाते हुए  तीसरा धक्का लगाया, इस धक्के को वेदिका  सहन नहीं कर पायी और वो आगे की और हो गयी, पर वो गिर नहीं पायी, अब शोएब तेज तेज धक्के मारने लगा, वेदिका अब चीखने की जगह सिसकारने लगी वो जोर जोर  से आअह्हह्ह्ह्हह! उफ्फफ्फ्फ्फफ्फ्फ़ आई इइइइइइइइइ ऐसी आवाजे निकल रही थी वो भी अब शोएब  का भरपूर साथ देते हुए मजे ले रही थी

शोएबअब जोर जोर से और गहरे गहरे धक्के लगाने लगा वो  गांड पर चाटे भी लगा रहा था. करीब आधा शोएब वेदिका की गांड मारता रहा और फिर  जोर जोर से आवाजे करते हुए गांड में झड़ने लगा, इस बिच वेदिका  भी १  बार झड़ चुकी थी, शोएब  ने अपने वीर्य से वेदिका  की गांड को लबालब भर दिया. उसको अपने से पूरी तरह चिपका कर रखा उसका लंड अभी भी उसकी  की गांड में ही था,

दोनों ऐसी अवस्था में १० मिनट पड़े रहे, फिर उसने धीरे से वेदिका की  गांड में से अपना लंड  निकाला, लंड बाहर आ गया, लंड अब भी विकराल था पर वो अब थोड़ा ढीला हो गया था, वेदिका की   गांड से शोएब  का काफी वीर्य बाहर आ रहा था, उसकी गांड का काफी  बड़ा हो गया था, उसके बाद उन्होंने दो बार चुदाई भी की और दो बार शोएब वेदिका को अपना वीर्य भी पिलाया.

कहानी ज्यादा लम्बी ना हो जाये इसलिए इसे मै यही तक सिमित कर देता हूँ फिर कभी वेदिका और शोएब की चुदाई की दास्ताँ भी लिख भेजूंगा.

तो दोस्तों आपको ये कहानी कैसी लगी अगर किसी महिला ने ये कहानी पढ़कर अपनी चुत का पानी निकाला होगा तो वो मुझे जरूर जरूर मेल करे साथ ही आप अपनी प्रतिक्रिया मेरे मेल पर भेज सकते है, आप मेरा इसी तरह उत्साह वर्धन करते रहे मेरा मेल आई डी है – jatin.1198@protonmail.com

धन्यवाद

आपका जतिन

पैसेवाले बॉस की जवान बेटी की बुर चुदाई की कहानी

दोस्तो, मेरा नाम आर्यन है. मैं दिल्ली में रहता हूँ. अभी मेरी उम्र 34 साल है. मेरी हाइट 5 फुट ...
Read More
गर्लफ्रेंड की बहन की चूत में उतारा लंड

गर्लफ्रेंड की बहन की चूत में उतारा लंड का खंजर!

दोस्तो, मैं अंश राजस्थान से हूँ. यहां  ये मेरी पहली देसी कॉलेज सेक्स कहानी है. यह एक सच्ची सेक्स कहानी ...
Read More
पापा ने अपनी साली मेरी मौसी को चोदा

पापा ने अपनी साली मेरी मौसी को चोदा – हिंदी कहानी

दोस्तो, मेरा नाम रोहित है और  मैं आपको मेरी असली जीजा साली की चुदाई कहानी सुनाता हूं जो कुछ साल ...
Read More
विधवा पड़ोसन भाभी को चोद के खुश किया

लोकडाउन में विधवा पड़ोसन भाभी को चोद के खुश किया

दोस्तो, मेरा नाम हितेश है और मैं गुजरात में रहता हूँ. मेरी उम्र 35 साल है और जॉब के कारण ...
Read More
देसी अम्मी को चोदा पराये आदमी ने

देसी अम्मी को चोदा पराये आदमी ने – चीटिंग सेक्स कहानी

मेरे घर में अम्मी अब्बू के अलावा मैं और मेरे दो छोटे भाई बहन भी हैं. अब्बू की एक छोटी ...
Read More
पड़ोसन भाभी रूबी को चोदा कोरोना लोकडाउन में

पड़ोसन भाभी रूबी को चोदा कोरोना लोकडाउन में

दोस्तो, इस हॉट पड़ोसन की चुदाई स्टोरी में मैंने करोना काल में चुदाई की मस्ती का रस भरने की कोशिश ...
Read More

5 thoughts on “वेदिका और उसकी गांड की खुजली”

  1. जतिन जी, आपकी कहानियाँ काफ़ी सेक्सी होती हैं, आपकी कहानियाँ पढ़कर अब मेरे पति मुझे रोज दो बार करते हैं, ऐसे ही लिखते रहे.

    Reply
  2. जतिन जी, “वेदिका और उसकी गांड की खुजली” कहानी के बाद आपकी नयी कहानियाँ का शीघ्रता से इंतजार हैं.

    Reply

Leave a Comment